सडक के गड्ढे बने यात्रियों के लिए सिरदर्द

  • जिमलगट्टा-आलापल्ली मार्ग की स्थिती

गडचिरोली. हाल ही में जिले में राष्ट्रीय महामार्ग का काम शुरू है. इस राष्ट्रीय महामार्ग अंतर्गत आनेवाले आलापल्ली-जिमलगट्टा मार्ग पर जगह जगह गड्डे गिर चुके है. गड्ढे बुझाने का काम ठंडे बस्ते में होने से उक्त गड्डे यात्रियों के लिए सिरदर्द साबित हो रहे है. जिससे तत्काल इस मार्ग के गड्डे बुझाने की मांग जोर पकड रही है.

जिले के दुर्गम क्षेत्र में आनेवाले जिमलगट्टा-आलापल्ली इस मार्ग की विगत अनेक वर्षों से हाल खराब है. साथ ही इस वर्ष इस क्षेत्र में हुए मुसलाधार बारिश से जगह जगह गड्डे निर्माण हुए है. अनेक जगह पर सकड की गिट्टी उखडने से वाहनधारकों को परेशानीओं का सामना करना पड रहा है. इन गड्डों से तथा गिट्टी उखडी सडक से चौपहिया, दुपहिया वाहन चालकों को तारों पर की कसरत करनी पड रही है. राष्ट्रीय महामार्ग के काम अंतर्गत सिरोंचा-आलापल्ली मार्ग के मरम्मत को मंजूरी प्रदान की गई है. मात्र इस मार्ग अंतर्गत आनेवाले जिमलगट्टा-आलापल्ली मार्ग के गड्डे न बुझाकर उक्त काम जिमलगट्टा फाटे पर आकर रूका है.

उक्त सडक मरम्मत को सरकार ने मंजुरी दी है. किंतु गड्डे बुझाए न जाने से इस परिसर के नागरिकों में संबंधित विभाग के प्रती रोष व्यक्त हो रहा है. नागरिकों ने इस संदर्भ में थेट सांसद अशोक नेते की ओर शिकायत की. जिससे सांसद नेते ने संबंधित निर्माण के अभियंता मिश्रा को सडक मरम्मत संदर्भ में सूचना की है. मात्र अभी तक संबंधित ठेकेदार द्वारा गड्डे बुझाने की ओर अनदेखी होने से नागरिकों में रोष व्यक्त हो रहा है. उक्त रूका हुआ काम फिर से कब शुरू होगा इसकी ओर इस परिसर के नागरिकों का ध्यान लगा हुआ है.

मंजूर काम तत्काल पूरा करे: जावेद अली

सिरोंचा से आलापल्ली तक गड्डे बुझाने में मंजुरी होने के बावजूद जिमलगट्टा मोड तक गड्डे बुझाकर काम रूकाया गया है. जिससे इस परिसर के नागरिकों में नाराजी व्यक्त हो रही है. काम तत्काल पूरा न करने पर आलापल्ली, गुड्डीगुडम, रेपनपल्ली, गुंडेरा इस गाव की जनता आंदोलन के पवित्र में है. जिससे कार्यकारी अभियंता ने संबंधित ठेकेदार को सूचना देकर मंजूर काम तत्काल पूरा करे, ऐसी मांग अल्पसंख्यांक मोर्चा के जिला महामंत्री जावेद अली ने की है.