Police Custody

    चामोर्शी: ग्रामपंचायत अंतर्गत किए गए कार्यो के बील के धनादेश पर हस्ताक्षर करने के लिए 2 लाख 20 हजार रूपयों के रिश्वत की मांग कर 1 लाख 10 हजार रूपयों की रिश्वत लेते हुए नेताजीनगर ग्राम पंचायत के सरपंच व उपसरपंच को आज 31 मई को एन्टी करप्शन ब्युरो ने रंगेहाथ गिरफ्तार किया है.

    इस कार्रवाई से ग्रामीण अंचल के राजनितिक क्षेत्र में खलबली मची है. रिश्वत लेनेवाले सरपंच का नाम गोपाल नगेन रॉय (52) व उपसरपंच का नाम संजीत कांचन भट्टाचार्य (35) है.

    प्राप्त जानकारी के अनुसार, चामोर्शी तहसील के नेताजीनगर ग्रामपंचायत अंतर्गत नेताजीनगर में किए गए नाली निर्माणकार्य, सिमेंट कांक्रीट सड़क व सिंचाई बांध कार्य के मंजूर बील 22 लाख रूपयों के धनादेश पर हस्ताक्षर करने के कार्य हेतु सरपंच गोपाल रॉय व उपसरपंच संजीत भट्टाचार्य ने 2 लाख 20 हजार रूपयों के रिश्वत की मांग की. समझौते के बाद 1 लाख 10 हजार रूपये देने का तय हुआ. इस संदर्भ में शिकायतकर्ता ने एन्टी करप्शन ब्युरो से की.

    जिससे तहत एन्टी करप्शन ब्युरो ने शिकायत की जांच, पड़ताल कर आज सोमवार को जाल बिछाया. इस दौरान सरपंच व उपसरपंच को शिकायकर्ता से 1 लाख 10 हजार रूपयों की रिश्वत लेते हुए रंगेहाथ गिरफ्तार किया गया. सरपंच, उपसरपंच पर रिश्वत प्रतिबंधक कानुन के तहत मामला दर्ज किया गया. है. इस कार्रवाई से ग्रामीण अंचल के राजनितिक क्षेत्र में हडकंप मच गया है.

    उक्त कार्रवाई नागपूर परिक्षेत्र के पुलिस अधिक्षक रश्मी नांदेडकर, अप्पर पुलिस अधिक्षक मिलींद तोतरे के मार्गदर्शन में जांच अधिकारी पुलिस उपअधिक्षक सुरेंद्र गरड, पुलिस हवालदार नथ्थु धोटे, पुलिस नाईक सतीश कत्तीवार, सुधाकर दंडीकेवार, देवेंद्र लोनबले, पुलिस सिपाही महेश कुकुडकार, घनश्याम वडेट्टीवार ने की.