धानोरा के गुजरी बाजार में  सोशल डिस्टन्सिंग की धज्जियां

  • मास्क न लगाते हुए नागरिकों का आवागमन

धानोरा. कोरोना संक्रमण रोकने के लिए सरकार ने  दिशा निर्देश जारी किये है। जैसे सामाजिक दूरी, मास्क, सैनेटाइजर  का इस्तेमाल करने का किंतु नागरिक इस ओर अनदेखी कर रहे है। धानोरा के दैनिक गुजरी बाजार में इन सभी की अनदेखी से कोरोना का संक्रमण फैलने का खतरा है। 

कोरोना महामारी की मार्च में  शुरूआत हुई। अब संक्रमण बडे पैमाने पर फैला है। प्रशासन के निर्देश के अनुसार कोरोना संक्रमण के संदर्भ में जनजागृति करते हुए दिए गए निर्देश के की अपील की जा रही है। जिसमें सोशल डिस्टन्सींग का पालन, मुंह पर मास्क, रूमाल लगाना, बुखार, खांसी, सर्दी होने पर तत्काल सरकारी अस्पताल में स्वास्थ्य जांच कर दवा उपचार करना आदि बातों का समावेश है। वहीं सैनेटाइजर का इस्तेमाल, साबुन से हाथ धोना आदि बातों की शुरूआत में शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्र तक उपयोग किया जा रहा था। कोरोना संक्रमण से जनता में डर बना है। विगत 6 माह से कोरोना के चलते लॉकडाऊन लागू है। अनलाक के बाद धीरे धीरे शिथिलता देते हुए सरकार ने रापनि बसेस, दूकान, बाजार शुरू किए। जिससे रोजगार से वंचित कुछ मजदूरों को राहत मिली। इस कालावधि में तहसील के अनेक युवक सब्जी व्यवसाय करने लगे है।

अनलाक के बाद अब लोगों में थोडा बहुत कोरोना का भय कम हो गया है। जिससे लोग मुह पर मास्क न लगाना, सोशल डिस्टन्सिंग के पालन में लापरवाही बरत रहे है जिससे कोरोना संक्रमण का खतरा है। इसलिए प्रशासन की ओर से जुर्मानात्मक कार्रवाई की जा रही है। इसका मुख्य उद्देश्य नागरिकों को दंडित न होकर उन्हे सावधानी बरतने की अपील करना है। इसके बावजूद धानोरा बाजार में सोशल डिस्टन्सिंग की अनदेखी कर रहे है। 

इस संदर्भ में व्यापारियों से पुछने पर उन्होने कहां कि, जगह नहीं मिलने के कारण सटकर ही बैठना पडता है. ग्राहकों से बात करते समय परेशानी न हो इसलिए मास्क के बगैर रहना पडता है।