सेतू सुविधा पूर्ववत शुरू करें, नागरिकों को हो रही समस्या

आरमोरी. निजी ऑनलाइन धारकों द्वारा जनता को असुविधा होने से पूर्व की तरह प्रत्येक तहसील कार्यालयों में सेतू सुविधा केंद्र पूर्ववत शुरू करने की मांग जनता द्वारा की जा रही है. सरकारी स्तर से संबंधित विभाग द्वारा प्रत्येक तहसील कार्यालय में अनेक वर्षों से सेतू सुविधा केंद्र शुरू थे. इस माध्यम से तहसील स्तर पर सभी जनता के कृषि विषयक दस्तावेज, उत्पन्न का प्रमाणपत्र, जाति का प्रमाणपत्र, अधिवास, नैशनैलिटी, नान क्रिमीलेयर, सालवंशी आदि कार्य तत्काल हो रहा था. विगत 2 से 3 वर्षों से सेतू सुविधा के बजाए ऑनलाइन कार्य टेंडर के स्वरूप में दिए गए हैं. जिससे जनता को सभी कार्य उक्त निजी ऑनलाइन केंद्र से करना पड़ रहा है. उक्त कार्य का अनुभव ऑनलाइन केंद्र धारकों को नहीं होने से जनता के कार्य प्रलंबित ‍हैं. वहीं कार्यों में कई मात्रा में खामियां पाई जाती है. फलस्वरूप नागरिकों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. 

नागरिकों ने लूटने का लगाया आरोप
ऑनलाइन काम के कारण शहरवासी तथा ग्रामीण जनता को बिना कारण परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. वहीं एक ही कार्य के लिए कई बार चक्कर काटना पड़ रहा है. उक्त ऑनलाइन केंद्र धारकों को प्रत्येक कार्य की एक निश्चित फीस लेने के आदेश हैं. ऑनलाइन केंद्र धारकों को किसी भी कार्य का टोकन देना अनिवार्य होने के बावजूद टोकन नहीं दिया जा रहा है. जिससे जनता की लूट होने का आरोप नागरिकों द्वारा लगाया जा रहा है.  तहसील कार्यालय में पूर्ववत सेतू सुविधा केंद्र शुरू करने की मांग नागरिकों द्वारा की जा रही है.