Bhandara School

    गड़चिरोली. कोरोना संक्रमण के चलते पिछले देढ़ वर्षो से बंद माध्यमिक व उच्च माध्यमिक स्कूलों की कक्षाएं राज्य सरकार के निर्देश के बाद आखिरकार गुरूवार 15 जुलाई से शुरू की गई है. जिला परिषद के शिक्षा विभाग ने नियोजन कर गुरूवार को 259 माध्यमिक व उच्च माध्यमिक स्कूलों में से 196 स्कूल शुरू किए गए. विशेषत: इन स्कूलों में पहले ही दिन 27 हजार छात्रों ने उपस्थिति दर्शायी है. देढ़ वर्ष बाद पहली बार स्कूलों में कक्षाएं शुरू होने से स्कूलों में छात्रों की चहल-पहल दिखाई दी.

    बता दे कि, कोरोना संक्रमण के चलते पिछले देढ़ वर्षो से स्कूल बंद रखे गये थे. जिससे कारण छात्रों का शैक्षणिक नुकसान हो रहा था. ऐसे में कोरोना की स्थिति नियंत्रण में आने के बाद राज्य सरकार ने 7 जुलाई को परिपत्रक जारी कर 15 जुलाई से राज्य के कोविडमुक्त  ग्रामीण परिसर के कक्षा 8 वीं से कक्षा 12 वीं तक की कक्षाएं शुरू करने का महत्वपूर्ण निर्णय लिया. जिसके तहत जिला परिषद के शिक्षा विभाग ने नियोजन किया था. बता दे कि, शिक्षा विभाग ने जिले के 259 स्कूल शुरू करने का निर्णय लिया था.

    इसी बीच राज्य सरकार के सूचना नुसार ग्रापं व शाला प्रबंधन समिति का प्रस्ताव लेते हुए जिले के कोविडमुक्त 196 गांवों के स्कूल गुरूवार को प्रत्यक्ष रूप में शुरू किए गए है. जिससे संपूर्ण जिले में स्कूल के पहले दिन 27 हजार छात्रों ने उपस्थिति दिखाई. राज्य सरकार के 50 फिसदी उपस्थिति नुसार यह आंकडा आशादायी होने की बात कही जा रही है. स्कूल के पहले दिन शाला प्रबंधन समिति और शिक्षक, शिक्षकेत्तर कर्मचारियों द्वारा छात्रों का स्वागत किया गया.

    शिक्षा विभाग के अधिकारी पहुंचे स्कूलों में

    स्कूल शुरू करते समय आवश्यक सतर्कता बरती गई. शिक्षक और कर्मचारी स्कूल पहुंचे क्या? अध्ययन व अध्यापन की प्रक्रिया किस तरह चल रही है? आदि का जायजा लेने के लिये शिक्षा विभाग के पर्यवेक्षक यंत्रणा के अधिकारी स्कूल के पहले ही दिन स्कूलों को भेट दी. वहीं स्कूल प्रबंधन द्वारा बरती कई विशेष सतर्कता के चलते अधिकारियों ने समाधान व्यक्त किया. वहीं छात्रों को शुभकामनाएं भी दी गई.

    नियोजन के बाद शुरू किए गये स्कूल: निकम

    माध्यमिक शिक्षाधिकारी राजकुमार निकम ने बताया कि, ग्राम पंचायत व शाला प्रबंधन समिति के प्रस्ताव के बाद कोविडमुक्त गांव के 196 स्कूल गुरूवार को शुरू किए गए है. राज्य सरकार के 50 फिसदी छात्र उपस्थिति नुसार पहले की दिन जिले में कक्षा 8 वीं से कक्षा 12 वीं तक के करीब 27 हजार छात्रों ने उपस्थिति दर्शायी है. शहरी क्षेत्र के स्कूलों संदर्भ में परिपत्रक में उल्लेख नहीं है. मात्र इस क्षेत्र के स्कूल शुरू करने के लिये अभिभावक, शिक्षक संघ व शाला प्रबंधन समिति की बैठक लेकर अभिभावकों की अनुमति के बाद स्कूल शुरू करेंंगे. ऐसी जानकारी उन्होंने दी.

    चामोर्शी तहसील में केवल 25 स्कूल शुरू

    सरकार के मार्गदर्शक सूचना नुसार 15 जुलाई से ग्रापं के प्रस्ताव के बाद ग्रामीण क्षेत्र के कोरोनामुक्त गांवों में कक्षा 8 वीं से 12 वीं तक की कक्षाएं शुरू करने का निर्देश दिया गया था. लेकिन ग्राम पंचायत के प्रस्ताव के अभाव में चामोर्शी तहसील के केवल 25 स्कूले शुरू हो पायी है. जिससे तहसील में स्कूल के पहले दिन छात्रों को अल्प प्रतिसाद मिला. तहसील में कक्षा 8 वीं से लेकर 12 वीं तक 69 स्कूल होकर इनमें 22 निजि व जिला परिषद के 3 ऐसे कुल 25 स्कूल शुरू हो पाए है.