वैनगंगा नदी में डूबने से 1 की मृत्यु, दूसरी महिला की तलाश जारी

चामोर्शी. दुर्गा उत्सव के दौरान घटस्थापना का पहला स्नान करने के लिए नदी में उतरे 2 महिलाओं की नदी में डूबने से की घटना आज 17 अक्टूबर की सुबह  10 बजे के दौरान मार्कंडादेव के वैनगंगा नदी घाट पर घटी। डूबने वाली महिलाओं के नाम शंकरपुर हेटी निवासी शशीकला काशिनाथ राऊत (46) व चामोर्शी निवासी विमलबाई बुधाजी राऊत (40) है। जिसमें से शशीकला का शव पुलिस ने तलाशने में सफल रही है। 

आज नवरात्री उत्सव के प्रथम दिन होने से सर्वत्र देवी की घटस्थापना की जाती है। इस दौरान तहसील का प्रसिद्ध मार्कंडादेव में विधिवत पूजाअर्चना करने के लिए कुछ महिला मार्कंडादेव में आई थी। पूजा के बाद नवरात्री स्नान करने के लिए महिला नदी में उतरी। किंतु पानी का बहाव अधिक होने से महिलाएं बह गई। इस दौरान शंकरपुर हेटी निवासी वर्षा किशोर राउत (32) और अर्चना साईनाथ कापेवार (30) को बचा सके। किंतु शशीकला राऊत व विमल राऊत यह नदी के बहाव में बह गई।

घटना की जानकारी मिलते ही चामोर्शी पुलिस घटनास्थल पर पहुंचकर खोज मुहिम चलाई। जिसमें शशीकला राऊत का शव मिला। खेाज मुहिम युद्धस्तर पर शुरू होकर समाचार लिखे जाने  तक विमल राऊत का पता नहीं चल सका था। मामले की जांच सहायक पुलिस निरीक्षक नागनाथ पाटील के मार्गदर्शन में हवलदार राजकुमार चिचेकर, ज्ञानेश्वर लाकडे कर रहे है।