Fire in Dhaka Medical College Hospital, Bangladesh, three Covid-19 patients died

    • भामरागढ तहसील के पर्लकोटा नदी पर जारी पुलियां का निर्माण 
    • नक्सलग्रस्त क्षेत्र में आग की घटना से चर्चा का बाजार गर्म 

    गडचिरोली. आदिवासी बहुल व नक्सलग्रस्त होनेवाले भामरागढ तहसील के पर्लकोटा नदी पर बहूप्रतिक्षीत पुलियां के निर्माणकार्य को शुरूआत की गई है. इस नवनिर्मिती पुलियां का निर्माणकार्य शुरू रहते समय बुधवार को देररात के दौरान अज्ञात लोगो ने कार्य के जगह पोकलैंड को आग लगाते हुए आगजनी का प्रयास किया. उक्त क्षेत्र नक्सल प्रभावित होने से इस आगजनी को लेकर भामरागढ शहर समेत तहसील में चर्चाओं का बाजार गर्म है. 

    भामरागढ तहसील में प्रति वर्ष बरसात के मौसम में अतिवृष्टि होने से पर्लकोटा नदी के पुलियां पर 5 से 6 फिट पानी बहता रहता है. जिससे बरसात में इस परिसर के सैंकडों गांवों का संपर्क 4 से 5 बार टुट जाता है. प्रति वर्ष होनेवाली उक्त समस्या को ध्यान में लेते हुए नए पुलियां निर्माण की मांग विगत 25 वर्षो से की जा रही थी. इसकी सुध लेते हुए प्रशासन ने नवनिर्मित पुलियां के निर्माण का प्रत्यक्ष निरीक्षण कर नए पुलियां के निर्माण को मंजूरी दी. जिसके तहत संबंधित ठेकेदार के मार्फत पर्लकोटा नदी के पुलियां का निर्माण करने के लिए बिते 1 माह से कार्य को शुरूआत की गई है.

    उक्त जगह ठेकेदार के अधिकारी, कामगारों के साथ खुदाईकार्य करने के लिए 5 से 6 जेसीबी, पोकलैंड समेत अन्य यंत्रसामग्री रखी गई है. इस कार्य पर रात के दौरान निगरानी करने के लिए स्थानीय चौकीदार की भी नियुक्ती की गई है. स्थानीय चौकीदार द्वारा रात के दौरान निगरानी रखी जाती है.

    मात्र रात के दौरान चौकीदार को प्यास लगने से पानी पिने के लिए वह बाहर गया था, इसी दौरान अज्ञात व्यक्ति ने सबसे अंत में होनेवाले पोकलैंड को आग लगा दी. आग लगाने की बात चौकीदार के ध्यान में आते ही स्थानीय काम पर होनेवाले अधिकारी, व कामगारों को इसकी जानकारी दी. इन कामगारों के मदद से समय पर आग पर नियंत्रण पाकर आग बुझाई गई. 

    नक्सलग्रस्त क्षेत्रों में विकासकार्यो को हमेशा नक्सलियों ने विरोध किया है. दहशत निर्माण करने के लिए नक्सली कार्य के जगह रूकावट निर्माण करने की घटनाओं को अंजाम देते है. अनेक घटनाओं में कार्य पर के वाहनों की आगजनी कर दहशत निर्माण की जातीह ै. जिससे दुर्गम क्षेत्र में ठेकेदार काम करने के लिए कतराते है.

    ऐसे में सुचारू रूप से शुरू होनेवाले नवनिर्मित पर्लकोटा नदी पर के निर्माणकार्य के जगह रखे पोकलैंड को अज्ञात व्यक्ति ने आग लगाकर जलाने का प्रयास करेन से खलबली मची है. यह आग किसने लगाई होगी?  यह बात पुलिस जांच में स्पष्ट होगी, मात्र नक्सलग्रस्त क्षेत्र में आगजनी की घटनाएं होने से चर्चाओं का बाजार गर्म है. 

    उक्त घटना संदर्भ की जानकारी पर्लकोटा नदी के नवनिर्मित पुलियां के निर्माणकार्य के जगह होनेवाले कर्मचारियों ने भामरागढ पुलिस थाने को दी है. कर्मचारियों के शिकायत के बाद अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. मामले की जांच शुरू होकर जांच के पश्चात ही आगजनी का क्या कारण है, यह बात स्पष्ट होगी. – डा. कुणाल सोनवणे, उपविभागीय पोलीस अधिकारी, भामरागड