Vidarbha State Resolution Day on 10

पृथक विदर्भ राज्य की सिफारिश फजल अली आयोग ने स्पष्ट रुप से की थी इसके बावजूद कांग्रेस सरकार ने आयोग की रिपोर्ट नहीं मानी और विदर्भ को जबरन महाराष्ट्र में शामिल किया।

गडचिरोली. पृथक विदर्भ राज्य की सिफारिश फजल अली आयोग ने स्पष्ट रुप से की थी इसके बावजूद कांग्रेस सरकार ने आयोग की रिपोर्ट नहीं मानी और विदर्भ को जबरन महाराष्ट्र में शामिल किया। तब से विदर्भ पर अन्याय शुरू हुआ इस अन्याय का विरोध कर पृथक विदर्भ राज्य निर्माण हो, इसके लिए 10 अक्टूबर को समूचे विदर्भ भर में विदर्भ राज्य आंदेालन समिति की ओर से ‘विदर्भ राज्य संकल्प दिवस’ मनाया जानेवाला है।

इस दौरान सभी जिलास्तर  और तहसील स्तर पर महामहिम राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, गृहमंत्री, केंद्र सरकार को ई-मेल करु पृथक विदर्भ राज्य निर्माण की मांग की जानेवाली है। इस आंदोलन में विदर्भवादी भर के नागरिकों से शामिल होने की अपील विराआंस के अधि. वामनराव चटप, राम नेवले, रंजना मामर्डे, डॉ. श्रीनिवास खांदेवाले, प्रबिरकुमार चक्रवर्ती, अरुण मुनघाटे, राजेंद्रसिंह ठाकूर, अशोक पोरेड्डीवार आदि ने की है।