‘जिंदगी संभालने को जिंदगी पड़ी है, वो लम्हा संभालो जिसपर जिंदगी खड़ी हैं’, यह समय घबराने का नहीं बल्कि खुद को बढ़ाने और एक ब्रांड बनाने का हैं. नवभारत-नवराष्ट्र के ‘लॉकडाउन वाइब्स’ वेबिनार के माध्यम से ‘बिज़नेस वर्ल्ड’ के अध्यक्ष और मुख्य संपादक अनुराग बत्रा ने कोरोना वायरस के बाद एडवरटाइजिंग क्षेत्र किस तरह काम करेगा इस विषय पर बोलते हुए यह बात कही.

‘जिंदगी संभालने को जिंदगी पड़ी है, वो लम्हा संभालो जिसपर जिंदगी खड़ी हैं’, यह समय घबराने का नहीं बल्कि खुद को बढ़ाने और एक ब्रांड बनाने का हैं. नवभारत-नवराष्ट्र के ‘लॉकडाउन वाइब्स’ वेबिनार के माध्यम से ‘बिज़नेस वर्ल्ड’ के अध्यक्ष और मुख्य संपादक अनुराग बत्रा ने कोरोना वायरस के बाद एडवरटाइजिंग क्षेत्र किस तरह काम […]