1/9
भारत के महान स्पिन गेंदबाज अनिल कुंबले आज आपना 49वां जन्मदिन मना रहे हैं। उनका जन्म 17 अक्टूबर 1970 को बैंगलोर में कृष्णा स्वामी और सरोजा के घर पर हुआ। इनके पैतृक गांव का नाम कुंबला है, इसलिए इनका सरनेम कुंबले है।
भारत के महान स्पिन गेंदबाज अनिल कुंबले आज आपना 49वां जन्मदिन मना रहे हैं। उनका जन्म 17 अक्टूबर 1970 को बैंगलोर में कृष्णा स्वामी और सरोजा के घर पर हुआ। इनके पैतृक गांव का नाम कुंबला है, इसलिए इनका सरनेम कुंबले है।
2/9

वह क्रिकेट जगत में जंबो नाम से भी प्रसिद्ध हैं। कुंबले भारत की ओर से सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले सफल गेंदबाज हैं। साथ ही कुंबले ने 1992 में मेकैनिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी की ।
वह क्रिकेट जगत में जंबो नाम से भी प्रसिद्ध हैं। कुंबले भारत की ओर से सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले सफल गेंदबाज हैं। साथ ही कुंबले ने 1992 में मेकैनिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी की ।
3/9
साल 1989 में कर्नाटक की तरफ से कुंबले ने अपना फर्स्ट क्लास डेब्यू हैदराबाद के खिलाफ किया, जिसमें उन्होंने चार विकेट लिए। मैच में अच्छा प्रदर्शन का उन्हें इनाम मिला और पाकिस्तान के खिलाफ अंडर-19 टीम में चुन लिया गया।
साल 1989 में कर्नाटक की तरफ से कुंबले ने अपना फर्स्ट क्लास डेब्यू हैदराबाद के खिलाफ किया, जिसमें उन्होंने चार विकेट लिए। मैच में अच्छा प्रदर्शन का उन्हें इनाम मिला और पाकिस्तान के खिलाफ अंडर-19 टीम में चुन लिया गया।
4/9
साल 1999 में दिल्ली के फिरोजशाह कोटला स्टेडियम में पाकिस्तान के खिलाफ खेले गए दो मैचों की सीरीज के आखिरी और दूसरे टेस्ट मैच की दूसरी पारी में अनिल कुंबले ने दस विकेट झटके थे।
साल 1999 में दिल्ली के फिरोजशाह कोटला स्टेडियम में पाकिस्तान के खिलाफ खेले गए दो मैचों की सीरीज के आखिरी और दूसरे टेस्ट मैच की दूसरी पारी में अनिल कुंबले ने दस विकेट झटके थे।
5/9

अनिल कुंबले का विवादों से तो कोई नाता नहीं है लेकिन वे अपने बेहतरीन खेल प्रदर्शन के लिए हमेशा जाने जाते हैं।
अनिल कुंबले का विवादों से तो कोई नाता नहीं है लेकिन वे अपने बेहतरीन खेल प्रदर्शन के लिए हमेशा जाने जाते हैं।
6/9
एंटिगा टेस्ट में टीम इंडिया का मुकाबला वेस्टइंडीज से था। इस टेस्ट में खेलते समय अनिल कुंबले के जबड़े में चोट लग गई थी। लेकिन फिर भी वे मुंह पर बैंडेट और पट्टिया लगाकर बॉलिंग करने उतरे। उन्होंने चौदह ओवर डाले जिसमें उन्होंने ब्रायन लारा को एलपीडब्ल्यू आउट कर विकेट लिया। इस घटना के बाद अनिल कुंबले एक रीयल हीरो बनकर देश में आए।
एंटिगा टेस्ट में टीम इंडिया का मुकाबला वेस्टइंडीज से था। इस टेस्ट में खेलते समय अनिल कुंबले के जबड़े में चोट लग गई थी। लेकिन फिर भी वे मुंह पर बैंडेट और पट्टिया लगाकर बॉलिंग करने उतरे। उन्होंने चौदह ओवर डाले जिसमें उन्होंने ब्रायन लारा को एलपीडब्ल्यू आउट कर विकेट लिया। इस घटना के बाद अनिल कुंबले एक रीयल हीरो बनकर देश में आए।
7/9

पर्थ में जनवरी 2008 में वे टेस्ट क्रिकेट में 600 विकेट पूरे करने वाले दुनिया के तीसरे स्पिनर बने थे।
पर्थ में जनवरी 2008 में वे टेस्ट क्रिकेट में 600 विकेट पूरे करने वाले दुनिया के तीसरे स्पिनर बने थे।
8/9
नवंबर 2008 में उन्होंने दिल्ली टेस्ट के बाद क्रिकेट से संन्यास ले लिया। क्रिकेट से संन्यास के बाद वे आईपीएल में दो टीमों के मेंटर रहे और फिर एक साल के लिए भारतीय क्रिकेट टीम के चीफ कोच बने।
नवंबर 2008 में उन्होंने दिल्ली टेस्ट के बाद क्रिकेट से संन्यास ले लिया। क्रिकेट से संन्यास के बाद वे आईपीएल में दो टीमों के मेंटर रहे और फिर एक साल के लिए भारतीय क्रिकेट टीम के चीफ कोच बने।
9/9
चैंपियंस ट्रॉफी 2017 के बाद कप्तान विराट कोहली के साथ विवाद के चलते उन्होंने इस पद से इस्तीफा दे दिया। ऐसा माना जाता है कि खिलाड़ियों को उनके अनुशासन की सख्ती पसंद नहीं आई। 
चैंपियंस ट्रॉफी 2017 के बाद कप्तान विराट कोहली के साथ विवाद के चलते उन्होंने इस पद से इस्तीफा दे दिया। ऐसा माना जाता है कि खिलाड़ियों को उनके अनुशासन की सख्ती पसंद नहीं आई।