1/9
नेल्सन मंडेला
नेल्सन मंडेला का जन्म 1928 में पूर्वी केप में हुआ था। उन्होंने 1994 में नोबेल पुरस्कार जीता। साथ ही वह समानता, न्याय और लोकतंत्र के भी प्रतीक थे।
नेल्सन मंडेला नेल्सन मंडेला का जन्म 1928 में पूर्वी केप में हुआ था। उन्होंने 1994 में नोबेल पुरस्कार जीता। साथ ही वह समानता, न्याय और लोकतंत्र के भी प्रतीक थे।
2/9
मार्टिन लूथर किंग
मार्टिन लूथर किंग न केवल दुनिया के सबसे प्रसिद्ध नेता थे, बल्कि सबसे प्रसिद्ध शिक्षकों में से भी एक थे। वह 1929 में पैदा हुए थे। वह शांतिवादी थे और उनके भाषण,
मार्टिन लूथर किंग मार्टिन लूथर किंग न केवल दुनिया के सबसे प्रसिद्ध नेता थे, बल्कि सबसे प्रसिद्ध शिक्षकों में से भी एक थे। वह 1929 में पैदा हुए थे। वह शांतिवादी थे और उनके भाषण, "आई हैव ए ड्रीम," ने उन्हें एक प्रतीकात्मक नेता बनाया।
3/9
जिम वाल्वानो

जिम वाल्वानो एक खिलाड़ी, एक प्रसिद्ध शिक्षक और कई लोगों के लिए एक वास्तविक प्रेरणा थे। कैंसर पीड़ित होने के बावजूद उन्होंने हार नहीं मानी, उन्होंने अपने शिक्षण कैरियर के दौरान, हमेशा उत्साह के बारे में, एक सपने और एक लक्ष्य के बारे में प्रचार किया।
जिम वाल्वानो जिम वाल्वानो एक खिलाड़ी, एक प्रसिद्ध शिक्षक और कई लोगों के लिए एक वास्तविक प्रेरणा थे। कैंसर पीड़ित होने के बावजूद उन्होंने हार नहीं मानी, उन्होंने अपने शिक्षण कैरियर के दौरान, हमेशा उत्साह के बारे में, एक सपने और एक लक्ष्य के बारे में प्रचार किया।
4/9
जेमि एस्कलांटे

जेमि एस्कलांटे का जन्म बोलीविया में हुआ था, लेकिन कम उम्र में ही वे अमेरिका चले गए, जहाँ वे पूर्वी लुसियाना में गारफील्ड हाई स्कूल में गणित पढ़ाने के लिए विख्यात हुए। एस्क्लांटे की शिक्षण शैली और प्रेरणा के तहत, छात्र के प्रदर्शन में नाटकीय रूप से सुधार हुआ। एक प्रसिद्ध शिक्षक के रूप में एस्कलांटे की उपलब्धियों को फिल्म में,
जेमि एस्कलांटे जेमि एस्कलांटे का जन्म बोलीविया में हुआ था, लेकिन कम उम्र में ही वे अमेरिका चले गए, जहाँ वे पूर्वी लुसियाना में गारफील्ड हाई स्कूल में गणित पढ़ाने के लिए विख्यात हुए। एस्क्लांटे की शिक्षण शैली और प्रेरणा के तहत, छात्र के प्रदर्शन में नाटकीय रूप से सुधार हुआ। एक प्रसिद्ध शिक्षक के रूप में एस्कलांटे की उपलब्धियों को फिल्म में, "स्टैंड एंड डिलीवर" में चित्रित किया गया था।
5/9
रैंडी पॉश

रैंडी पॉश, कार्नेगी मेलन विश्वविद्यालय में कंप्यूटर विज्ञान के प्रोफेसर थे, जहां 47 वर्ष की आयु में, उन्हें पता चला कि उन्हें अग्नाशय का कैंसर है। हालाँकि, यह उनकी शिक्षाएं थीं जिन्होंने पॉश को विश्व स्तर पर प्रसिद्ध किया। उन्होंने छात्रों को कभी भी हार नहीं मानने और जीवन में अन्य चीज़ों की सराहना करने के लिए प्रोत्साहित किया।
रैंडी पॉश रैंडी पॉश, कार्नेगी मेलन विश्वविद्यालय में कंप्यूटर विज्ञान के प्रोफेसर थे, जहां 47 वर्ष की आयु में, उन्हें पता चला कि उन्हें अग्नाशय का कैंसर है। हालाँकि, यह उनकी शिक्षाएं थीं जिन्होंने पॉश को विश्व स्तर पर प्रसिद्ध किया। उन्होंने छात्रों को कभी भी हार नहीं मानने और जीवन में अन्य चीज़ों की सराहना करने के लिए प्रोत्साहित किया।
6/9
एरिस्टोटल

एरिस्टोटल को इतिहास में सबसे अधिक प्रभावशाली विचारकों के रूप में देखा जाता है। उन्होंने दर्शनशास्त्र और वैज्ञानिक सोच की नीव रखने मेंमहत्वपूर्ण भूमिका निभाई। एरिस्टोटल ने सिकंदर महान, टॉलेमी और कैसेंदर सहित कई राजाओं को पढ़ाया।
एरिस्टोटल एरिस्टोटल को इतिहास में सबसे अधिक प्रभावशाली विचारकों के रूप में देखा जाता है। उन्होंने दर्शनशास्त्र और वैज्ञानिक सोच की नीव रखने मेंमहत्वपूर्ण भूमिका निभाई। एरिस्टोटल ने सिकंदर महान, टॉलेमी और कैसेंदर सहित कई राजाओं को पढ़ाया।
7/9
जॉर्ज ऑरवेल

जॉर्ज ऑरवेल एक महान दूरदर्शी के रूप में जाने जाते हैं, जिन्होंने अपने छात्रों के आगे बढ़ने की इच्छा को बढ़ावा दिया। वे कहते हैं कि जो लोग शिक्षक बन सकते हैं, वे दुनिया को बदल सकते हैं। 
जॉर्ज ऑरवेल जॉर्ज ऑरवेल एक महान दूरदर्शी के रूप में जाने जाते हैं, जिन्होंने अपने छात्रों के आगे बढ़ने की इच्छा को बढ़ावा दिया। वे कहते हैं कि जो लोग शिक्षक बन सकते हैं, वे दुनिया को बदल सकते हैं। 
8/9
मार्गरेट मैकमिलन

मार्गरेट मैकमिलन एक शिक्षिका थीं, जिनका जन्म अमेरिका में हुआ था, लेकिन वह बहुत कम उम्र में इंग्लैंड चली गईं। मैकमिलन गरीब बच्चों के लिए मुफ्त स्कूल, भोजन, स्कूली बच्चों के मेडिकल निरीक्षण और स्कूल, क्लीनिक खोलने की शुरुआत की।
मार्गरेट मैकमिलन मार्गरेट मैकमिलन एक शिक्षिका थीं, जिनका जन्म अमेरिका में हुआ था, लेकिन वह बहुत कम उम्र में इंग्लैंड चली गईं। मैकमिलन गरीब बच्चों के लिए मुफ्त स्कूल, भोजन, स्कूली बच्चों के मेडिकल निरीक्षण और स्कूल, क्लीनिक खोलने की शुरुआत की।
9/9
फ्रेडरिक फ्रोबेल

ब्लेंकबर्ग में पहली किंडरगार्टन के आविष्कारक फ्रेडरिक फ्रोबेल ने अपने शुरुआती शिक्षण दिनों के दौरान माध्यमिक स्कूल के लड़कों को पढ़ाया। वह ऐसा मानते थे कि बच्चें आत्म-गतिविधि, बातचीत और खेलने के माध्यम से सर्वश्रेष्ठ सीखते हैं।
फ्रेडरिक फ्रोबेल ब्लेंकबर्ग में पहली किंडरगार्टन के आविष्कारक फ्रेडरिक फ्रोबेल ने अपने शुरुआती शिक्षण दिनों के दौरान माध्यमिक स्कूल के लड़कों को पढ़ाया। वह ऐसा मानते थे कि बच्चें आत्म-गतिविधि, बातचीत और खेलने के माध्यम से सर्वश्रेष्ठ सीखते हैं।