mahavitaran

  • 4 लाख उपभोक्ताओं ने बिलों का भुगतान

गोंदिया. ग्राहकों से सीधा संपर्क साधकर विद्युत बिलों का भ्रम दूर करने के लिए महावितरण कम्पनी ने विभिन्न पर्यायों के माध्यम से ग्राहकों में जन जागृति की. वेबिनार व विशेष मदद कक्ष द्वारा ग्राहकों का समाधान किया. इसके साथ ही 2 प्रश छूट के साथ में बिल किश्तों में भरने सुविधा भी उपलब्ध करा दी है. जिससे जिले के घरेलू, वाणिज्यिक व औद्योगिक श्रेणी वाले लगभग 4 लाख 11 हजार 340 ग्राहकों ने 115 करोड़ 35 लाख रुपये के विद्युत बिलों का भुगतान किया है. इसके अलावा अन्य उपभोक्ताओं का कार्यालय में आए बिना विद्युत बिल का ऑनलाइन भुगतान करने का आह्वान महावितरण ने किया है.

लॉकडाउन में रीडिंग नहीं ली गई थी. जिससे महाविरण ने ग्राहकों को एक साथ 3 महीने का विद्युत बिल दिया था. विद्युत बिल अधिक होने का संदेह ग्राहकों के मन में निर्मित हो गया था. महावितरण के माध्यम से प्रत्यक्ष व फोन पर संपर्क कर ग्राहकों को सम्मेलन, विशेष मदद कक्ष, जन प्रतिनिधि व परिसर के ग्राहकों को जानकारी देने वाट्स एप ग्रुप के अलावा ग्राहकों के मोबाइल पर एसएमएस व बिल जांच के लिए वेब लिंक व विद्युत बिल पर बिलों की संपूर्ण जानकारी आदि प्रभावी उपाय योजना की गई. नागपुर विभागीय कार्यालय अंतर्गत वेबिनार व विशेष मदद कक्ष का निर्माण किया गया है. इसका लाभ अधिकांश उपभोक्ताओं ने उठाया. इन सभी उपाय योजना को ग्राहकों ने अच्छा प्रतिसाद देकर बड़ी संख्या में विद्युत बिलों का भुगतान किया है. 

3 किश्तों में बिल अदा करने की सुविधा
इसमें गोंदिया परिमंडल के 4 लाख 11 हजार 340 ग्राहकों ने 115 करोड़ रुपये का भुगतान किया. ग्राहकों को बकाया बिल की संपूर्ण रकम का भुगतान करने पर उस रकम पर 2 प्रश छूट मिलेगी. इसके अलावा 3 किश्तों में बिल भरने की सुविधा भी ग्राहकों को उपलब्ध है. सुविधा का लाभ उठाने वाले विद्युत उपभोक्ताओं को ब्याज, विलंब शुल्क, दंड निर्धारित नहीं किया जाएगा. लाभ उठाने कोरोना के प्रभाव को ध्यान में रखकर कार्यालय में भीड़ नहीं करते हुए ऑनलाइन विद्युत बिल का भुगतान करने का आह्वान नागपुर प्रादेशिक कार्यालय के प्रादेशिक संचालक सुहास रंगारी, गोंदिया परिमंडल के मुख्य अभियंता सुखदेव शेरकर ने किया है.