strike

गोंदिया. जिले में स्वास्थ्य विभाग अंतर्गत कार्यरत अनुबंधित कर्मचारियों ने अपनी विभिन्न प्रलंबित मांगों को लेकर 11 जून से कामबंद आंदोलन शुरु कर दिया है. इसी बीच 19 जून को मॅग्मो संगठन ने ज्ञापन देकर इन आंदोलनरत कर्मियों का समर्थन किया है. उल्लेखनीय है कि अनुबंधित कर्मचारियों के आंदोलन को रविवार को 10 दिन पूर्ण हो गए है. इसके बाद भी स्वास्थ्य कर्मचारी अपने काम पर नही लौटे है. जिससे स्वास्थ्य सेवा पर बड़ा असर पड़ा है. इतना ही नही अनेक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों व अस्पतालों की सेवा ठप पड़ गई है.

राष्ट्रीय स्वास्थ्य अभियान अनुबंधित संगठन समन्वय समिति के नेतृत्व में स्वास्थ्य कर्मचारियों ने आंदोलन की शुरुआत की दी है. इन कर्मियों की प्रमुख मांगों में 10 से 12 वर्षों से बहुत कम मानधन पर काम करने वाले कर्मचारियों को नियमित करने, रिक्त जगहों पर समकक्ष पद पर समायोजन करने तथा समान काम समान वेतन का समावेश है. शासन का ध्यान आकर्षित करने के लिए मांगे पुर्ण होने तक आंदोलन शुरु रखने का संकेत संगठन ने दिया है.

जिला मॅग्मो संगठन के सचिव डा.अनंत चांदेवार ने ज्ञापन सौंपा है. इस दौरान शैलेंद्र तिवारी, अविनाश घरडे, मनोज सातपुते, संगठन अध्यक्ष हर्षल पंदीलवार, राखी प्रसाद, मनोज तिवारी, अनिल रहमतकर, ग्रीष्मा वाहाने, प्रतिमा मेश्राम, मीना पेंदाम, संजय मेंढे, एड.रेखा कानतोडे, एड.प्रतिभा भोयर, डा.मीना वट्टी, अर्चना चौधरी, रेखा पुराम, अर्चना कांबले, प्रदीप रहांगडाले, ललित गौतम, ममता गजभिये, शालिनी राऊत आदि उपस्थित थे.