BSNL Building Sealed

गोंदिया. नप के प्रापर्टी टैक्स विभाग ने बकाया टैक्स को लेकर बीएसएनएल का सिविल लाइन स्थित भवन सील कर दिया है. कार्रवाई 15 दिसंबर को दोपहर में की गई. घटना के बाद शहर के प्रापर्टी धारकों जिन पर टैक्स बकाया है में हड़कंप मच गया है. इसके 1 दिन पूर्व पंजाब नेशनल बैंक के सामने स्थित एक्सीस बैंक का एटीएम सील किया गया था.

5.50 लाख है शेष

बताया जा रहा है कि भारत संचार निगम लि. पर नप का 5 लाख 50 हजार 782 रुपये टैक्स बकाया है. अधिकारियों से भेंट कर टैक्स भुगतान करने के लिए आग्रह किया गया, किंतु इस संदर्भ में कोई ध्यान नहीं दिया गया. टैक्स विभाग के निरीक्षक विशाल बनकर, सहायक टैक्स निरीक्षक प्रदीप घोडेस्वार, वार्ड मोहरील श्यामस्वरुप यादव, सुशील बिसने, श्याम शेंडे, प्रदीप मिश्रा, पप्पू नकाशे, मोहित राजनकर आदि ने सिविल लाइन पहुंचकर बीएसएनएल का भवन सील कर उस पर ताला जड़ दिया है. 

उल्लेखनीय है कि नप प्रापर्टी धारकों के समय पर भुगतान नहीं करने से आर्थिक तंगी से जूझ रही है. इस समस्या से निपटने के लिए मुख्याधिकारी करण चव्हान ने कड़े कदम उठाए हैं. इतना ही नहीं उन्होंने टैक्स वसूल करने अलग-अलग दलों का गठन किया है. इसके पूर्व ही टैक्स का भुगतान नहीं करने वालों की संपत्ति जब्त करने का फरमान भी जारी किया है. मुख्याधिकारी का आदेश मिलते ही टैक्स विभाग के अधिकारी व कर्मचारी सक्रिय हो गए है. 

एक्शन में नप

दल ने मुरलीधर अग्रवाल पर 3 लाख 23 हजार 851 रुपये की बकाया वसूली के लिए उनके घर पर दस्तक दी. वर्ष 2015-16 से बकाया होने की वजह से उनकी इमारत के एक्सीस बैंक के एटीएम को सील किया. इसी तरह दल ने इंडियन ओवरसीज बैंक के एटीएम वाली एजेंसी से भेंट कर 1 लाख 54 हजार रुपये बकाया का भुगतान करने भेंट दी. इस समय संबंधित व्यक्ति के वचनपत्र लिखकर देने पर कार्रवाई टाल दी गई. मंगलवार को तमाकू लाइन में कुछ व्यापारियों ने 6.50 लाख के धनादेश व 1.15 लाख रुपये बकाया टैक्स का भुगतान किया है. नप टैक्स विभाग की कार्रवाई इसी तरह शुरू रही तो 31 मार्च तक बकाया प्रापर्टी टैक्स की बड़ी राशि की वसूली संभव हो सकेगी.