Gram Panchayat Election

गोंदिया. राज्य चुनाव आयोग ने मार्च से दिसंबर 2020 तक पंचवार्षिक कार्यकाल पूर्ण करने वाली ग्राम पंचायतों का चुनाव कार्यक्रम घोषित किया है, इसके साथ ही जिले में आचार संहिता लागू हो गई है. जिले में 189 ग्रापं में चुनाव होंगे. इसे लेकर इच्छुक उम्मीदवारों ने लॉबिंग शुरू कर दी है. इसी तरह ग्राम पंचायतों पर हमारी पार्टी का कब्जा हो, इसके लिए राजनीतिक पार्टियों ने भी टोह लेना शुरू कर दिया है. जिले की 189 ग्रापं का कार्यकाल समाप्त हो गया है. जिससे पिछले कुछ महीनों से इन ग्रापं का कार्यभार प्रशासक के माध्यम से चल रहा है.

गोंदिया तहसील में खींचतान

जिले की सबसे बड़ी गोंदिया तहसील अंतर्गत ग्रापं में अपना वर्चस्व करकरार रहे, इसके लिए विधायक विनोद अग्रवाल, पूर्व विधायक गोपालदास अग्रवाल, कांग्रेस व राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के साथ ही शिवसेना के पदाधिकारी सक्रिय हो गए हैं. ग्रापं के माध्यम से आगामी जिप व पंस के चुनाव में वर्चस्व कायम रखने सभी में जबर्दस्त स्पर्धा सी शुरू हो गई है. इस बार गोंदिया तहसील में होने वाले ग्रापं चुनाव में 5 से अधिक पैनल मैदान में उतरने की संभावना है. 

जिले में 189 ग्रापं का समावेश

जिले में 189 ग्रापं में चुनाव की प्रक्रिया शुरू हो गई है, इसमें गोंदिया तहसील अंतर्गत 37 ग्रापं का समावेश है, इसी तरह अर्जुनी मोरगांव 29, आमगांव 22, गोरेगांव 25, तिरोड़ा 19, देवरी 29, सडक अर्जुनी 19 व सालेकसा तहसील में पंचायत समिति अंतर्गत 9 ग्रापं इस तरह कुल 189 ग्रापं में चुनाव होंगे.