Deori Talika Adhikari Karyalay

  • जांच के लिए स्वैब सैंपलिंग शुरू

देवरी. ग्रीन जोन में मौजूद देवरी तहसील पर 11 मार्च को एक साथ ४ लोगों की कोरोना रिपोर्ट पाजिटिव आने के बाद रेड जोन में आने का खतरा बढ़ गया है. कोरोना संक्रमण के दोबारा बढ़ने के मामलों को देखते हुए प्रशासन के कान खड़े हो गए हैं. तहसील में इस वक्त मुल्ला, फुटाना, घोनाड़ी व ककोड़ी इन ४ गांवों के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और चिचगड़ व देवरी के सरकारी अस्पताल में कोरोना की जांच के लिए स्वैब सैंपलिंग लेना शुरू हैं. इसके अलावा तहसील के आदिवासी आश्रमशाला सहित सरकारी और निजी स्कूलों में भी जांच शुरू कर दी गई है.

नियमों का पालन करें

तहसील स्वास्थ्य अधिकारी डा लिलत कुकड़े ने लोगों से अपील की है कि कोरोना नियमों का गंभीरता से पालन करें, जरूरी होने पर ही घरों से बाहर निकलें, सार्वजनिक स्थानों पर मास्क का प्रयोग करें, २ गज की दूरी बनाएं रखें, सामुदायिक व धार्मिक कार्यक्रमों में भीड़ ना करें, खुद भी सुरक्षित रहे और अपने परिवार को भी सुरक्षित रखें.