My Family, My Responsibility Campaign

  • मरीजों को पकड़ने 15 टीमों का गठन

गोंदिया. राज्य शासन के मेरा परिवार मेरी जिम्मेदारी उपक्रम अंतर्गत जिलाधीश दीपककुमार मीना ने रविवार को इस अभियान की शुरुआत की है. इसमें कोरोना के बाद घर में क्वारंटाइन रहकर प्रशासन को जानकारी नहीं देने वालों की खोज की जाएगी. उन्हें शासकीय प्रक्रिया पूर्ण करने के लिए प्रशासन को सहयोग करने अभियान शुरू किया गया है. ऐसी जानकारी मीना ने दी.

अभियान के लिए अधिकारियों व कर्मचारियों की 15 टीमों का गठन किया गया है. अतिरिक्त निवासी उप जिलाधीश, निवासी उप जिलाधीश, उप विभागीय अधिकारी, मुख्य अधिकारी, जिला स्वास्थ्य अधिकारी सहित अन्य विभाग प्रमुखों का समावेश है.

जानकारी छिपाने पर जुर्माना
टीम में विभाग प्रमुख के साथ 1 पुलिस कर्मचारी व 1 नप कर्मचारी दिया गया है. अभियान की शहर में शुरुआत एसडीएम वंदना सवरंगपते ने की है. वहीं रामनगर परिसर में जिलाधीश मीना, नप के सीईओ करण चौहान, थानेदार बबन आव्हाड, जिला शल्य चिकित्सक डा.भूषण कुमार रामटेके की उपस्थिति में शुरुआत की गई.

प्रथम दिन 80 क्वारंटाइन वाले कोरोना मरीजों के घर जाकर उन्हें जानकारी दी जाएगी. इतना ही नहीं जानकारी छुपाने पर जुर्माना वसूला जाएगा. प्रशासन को सहयोग कर अन्य परिवारों को सुरक्षित रखने मदद करने का आव्हान किया गया है. उल्लेखनीय है कि अह्वाल कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद लगभग 1,200 मरीजों ने प्रशासन को अब तक जानकारी नहीं दी है.