Administration came in action, action on non-compliance
File Photo

बिरसी फाटा (तिरोडा). तहसील में कोरोना का कहर जारी है. बावजूद इसके बिना मास्क के लोगों को बेखौफ घुमते देखा जा रहा है. इससे संक्रमण और भी बढ़ सकता है. शहरों तक सीमित कोरोना अब गांवों में भी बढ़ रहा है. सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करना व मास्क का इस्तेमाल नहीं करने के कारण संक्रमण अपना दायरा लगातार बढ़ा रहा है.

तहसील के कई गांवों में इसके मरीज पाये गये हैं. तहसील में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की अब तक की संख्या 442 जिनमें क्रियाशील 127 हैं. वहीं 10 मरीज अपनी जिंदगी की जंग हार चुके हैं. इन दिनों गांवों में भी कोरोना की संख्या बढ़ रही है. इसके बावजूद भी लोगों में कोई असर दिखाई नही दे रहा है.

इलाज करने से कन्नी काट रहे डाक्टर
इन दिनों सर्दी, खांसी तथा बुखार के मरीज देखे जा रहे हैं. किसी निजी या शासकीय अस्पताल में जाने पर सबसे पहले कोरोना टेस्ट करने की सलाह दी जाती है. जिससे मरीजों को लगता है टेस्ट में कही पॉजिटिव रिपोर्ट न आ जाए. इस भय से कई मरीज टेस्ट से कतराते नजर आते हैं.

संक्रमण की शृंखला तोड़ने प्रशासन को सहयोग देने की जरूरत है. तिरोडा शहर में सप्ताहभर में मरीजों की संख्या मे भारी वृद्धि हुई हैं. कोरोना संक्रमण की श्रृंखला तोड़ने के लिये 5 दिन व्यापार बंद का निर्णय लिया गया है. सहयोग करने की अपील भी की गयी है. अंतिम हथियार के रूप मे कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिये व्यापारी वर्ग एकजुट होकर आगे आया है.