Gondia Murder

गोंदिया. स्थानीय मुर्री लाल पहाड़ी परिसर में एक नाबालिग की हत्या कर उसका शव तालाब में फेंक दिया गया. यह घटना 13 अक्टूबर को सुबह प्रकाश में आई. जिससे संपूर्ण क्षेत्र में खलबली मच गई. घटनास्थल परिसर में सैकड़ों लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा था. घटना की जानकारी मिलते ही जिला पुलिस अधीक्षक विश्व पानसरे, उप विभागीय पुलिस अधिकारी जगदीश पांडे, शहर थानेदार बबन आव्हाड़, सहायक पुलिस निरीक्षक विवेक नार्वेकर, सावंत, मोरे सहित बड़ी संख्या में पुलिस कर्मी मौके पर पहुंच गए.

बताया जा रहा है कि श्रीनगर, चंद्रशेखर वार्ड निवासी पूर्वा कृष्णकुमार मेश्राम (16) मामा के घर पर रह रही थी. इसी बीच, संजय नगर मुर्री निवासी उमाशंकर ओमप्रकाश कटरे से उसकी दोस्ती हो गई थी. जिससे दोनों के बीच अक्सर मेलमिलाप होने लगा. घटना के एक दिन पूर्व 12 अक्टूबर की शाम 5 बजे उमाशंकर कटरे पूर्वा मेश्राम को घर से बुलाकर अपने साथ लेकर गया था. लेकिन पूर्वा रात में घर वापस नहीं लौटी थी. जिससे परिवार वालों ने उसकी खोजबीन शुरू कर दी. इस बीच मुर्री के तालाब में पूर्वा का शव मिलने की जानकारी मिली. 

विवाह के दबाव डाल रहा था प्रेमी

इस संबंध में बताया जा रहा है कि उमाशंकर कटरे पूर्वा मेश्राम पर विवाह करने के लिए दबाव डाल रहा था. जबकि पूर्वा विवाह के लिए उसे मना कर रही थी. घटना की रात में भी विवाह को लेकर दोनों के बीच विवाद हुआ. जिससे उमाशंकर कटरे ने पूर्वा के सिर व गले पर प्रहार कर दिया. जिससे उसकी मृत्यु हो गई. बाद में उसे तालाब में फेंक कर वह घटनास्थल से भाग गया. पुलिस ने आरोपी उमाशंकर को गिरफ्तार किया है. शहर पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज किया है. मामले की जांच सहायक पुलिस निरीक्षक विवेक नार्वेकर कर रहे हैं.