Fire Brigade
File Photo

गोंदिया. ठेकेदार से 2 महीने का वेतन मिलने के बाद और मुख्याधिकारी ने 15-15 दिन में वेतन निकालकर जल्द ही पूर्ण वेतन देने का आश्वासन दिया. जिससे नप के फायर ब्रिगेड विभाग ने अनुबंध पर कार्यरत कर्मचारी शुक्रवार को दोपहर 3 बजे अपने काम पर पुन: वापस लौट गए है.

13 कर्मियों ने किया था काम बंद
उल्लेखनीय है कि नप में मनुष्यबल की पूर्ति करने वाली एजेंसी के माध्यम से फायर ब्रिगेड विभाग में कार्यरत अनुबंधित कर्मचारियों को पिछले 10 महीनों से वेतन नहीं मिला है. जिससे आर्थिक संकट का सामना करते हुए इन 13 कर्मियों ने 1 अगस्त से काम बंद कर दिया था. इस बीच मुख्याधिकारी करण चव्हान ने संबंधित ठेकेदार को 13 लाख का भुगतान कर दिया. ठेकेदार इन कर्मियों को केवल 2 महीने का मानधन दे रहा था. जिसका कर्मियों ने विरोध कर मुख्याधिकारी चव्हान से भेंट की. इस पर चव्हान ने ठेकेदार को 2 महीने का वेतन दिलाया. उन्हें क्रमश: 15 दिनों में बकाया वेतन निकाल कर पूर्ण वेतन देने का भरोसा दिलाया. इन कर्मियों के काम बंद कर देने से दूसरे कर्मियों पर बोझ बढ़ गया था. 

सफाई कर्मियों की समस्या होगी हल
मुख्याधिकारी करन चव्हान ने फायर ब्रिगेड विभाग के कर्मियों की समस्या हल करने का आश्वासन देकर उन्हें पूर्ववत काम पर लगा दिया है. इसी तरह एजेंसी के माध्यम से नप के सफाई व अन्य विभागों में कार्यरत अनुबंधित कर्मियों के भी कई महीने से मानधन बकाया है. ऐसी स्थिति में उनके प्रस्ताव तैयार कर जिलाधीश को देंगे. जिससे इस संपूर्ण विषय का ही निवारण हो जाएगा. ऐसा मुख्याधिकारी चव्हान ने बताया है.