fraud

  • आदर्श महिला ग्रामीण बिगर शेती सहकारी संस्था का कारनामा

गोंदिया. आदर्श महिला ग्रामीण बिगर शेती सहकारी संस्था सातगांव (भजेपार) स्थित संचालक, दैनिक जमाकर्ता व मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने खाते धारकों की निधि का दुरुपयोग कर बड़ी हेराफेरी की है. साकरीटोला निवासी नजरभाई जीवाभाई दिनानी ने सालेकसा थाने में शिकायत की है, लेकिन मामला दर्ज नहीं किया गया. इसे लेकर उन्होंने आंदोलन का संकेत दिया है.

आदर्श महिला ग्रामीण बिगर शेती सहकारी संस्था के मुख्य कार्यकारी अधिकारी व कर्मचारियों ने मिलीभगत कर इस पत संस्था के ग्राहकों की दैनिक जमा राशि, फिक्स डिपॉजिट अन्य खातों की राशि अवधि पूर्ण होने पर भी ग्राहकों को वापस नहीं लौटाई है. पत संस्था पर ग्राहकों की 80 लाख की रकम फंसी है. इस संबंध में संचालक मंडल सहित कर्मचारियों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज करने थानेदार को पत्र दिया गया. संस्था के लेखा परीक्षण कर जानकारी मिलने में विलंब होने से मामला दर्ज नहीं करने की बात पुलिस विभाग कर रहा है.

रिपोर्ट प्रस्तुत करने विलंब

कोरोना काल के प्रभाव से अधिकांश सहकारी संस्थाओं का लेखा परीक्षा रिपोर्ट प्रस्तुत नहीं किया गया है. इस निर्णय से सहकारी संस्थाओं को पर्याप्त समय मिल जाएगा. लेखा परीक्षण की अवधि बढ़ा दी गई है. अब इस कार्य को 31 दिसंबर 2020 तक पूर्ण करना है.