Delhi-Rain

    गोंदिया. राज्य में पिछले 3 दिनों से बारिश का जोरदार दौर शुरू है. लेकिन गोंदिया जिले में वरुण देव की वक्रदृष्टि दिखाई दे रही है. बारिश नहीं होने से किसान चिंताग्रस्त हो गया है. जिले में 2 दिनों से आसमान में काले बादल छाए हुए हैं.

    इसी में मंगलवार को दोपहर 1 बजे हल्की बूंदाबांदी के साथ बारिश हुई. इसी तरह बुधवार को भी दोपहर 1 बजे से रिमझिम बारिश शुरू है. आसमान में बादल छाए होने से लोगों को सूर्यनारायण के दर्शन नही हो रहे हैं. फिलहाल हल्की बारिश ने मौसम को ठंडा कर दिया है. जिले के अधिकांश किसान नैसर्गिक बारिश पर निर्भर हैं.

    जिससे वे बारिश होने की प्रतीक्षा कर रहे हैं. जिले में मंगलवार से रिमझिम बारिश की शुरुआत हो गई है. लेकिन अब भी जोरदार बारिश की प्रतीक्षा की जा रही है. उल्लेखनीय है कि 8 व 9 जुलाई को जिले में सबसे अधिक बारिश हुई थी. 

    जिले में 22.3 मिमी. बारिश दर्ज

    जिला प्रशासन ने 21 जुलाई को 22.3 मिमी. बारिश दर्ज की है. जिले में तहसील निहाय आकड़े इस तरह हैं. इसमें गोंदिया 21.5 मिमी., आमगांव 22.8 मिमी., तिरोडा 19.3 मिमी., गोरेगांव 19.7 मिमी., सालेकसा 36.5 मिमी., अर्जुनी मोरगांव 22.5 मिमी., देवरी 22.9 मिमी. व सडक अर्जुनी तहसील में 13.5 मिमी. बारिश का समावेश है.

    जिले में 1 जून से 21 जुलाई तक अपेक्षित होने वाली बारिश 473.9 मिमी. है. जबकि 21 जुलाई तक केवल 391.3 मिमी. याने कुल बारिश की तुलना में 82.6 प्रश. बारिश कम हुई है. उल्लेखनीय है कि 1 जून से 30 सितंबर 2021 इन 4 माहों में अपेक्षित बारिश 1220 मिमी. है. इसी तरह 21 जुलाई को हुई बारिश का प्रश. 32.1 है. 

    धान रोपाई का काम अटका

    धान रोपाई के लिए अभी धान के रोप तैयार हैं लेकिन खेतों में कीचड़ होने लायक वर्षा नहीं होने से धान रोपाई का काम अधूरा अटका पड़ा है. जिन किसानों के पास सिंचाई के साधन उपलब्ध हैं उन्होंने रोपाई कर ली है जबकि जिनके पास सुविधा नहीं है वे किसान आसमान की ओर देख रहे हैं. फिलहाल हल्की बूंदाबांदी से ओर वर्षा होने की उम्मीद जताई जा रही है.