Net speed is becoming an obstacle in online education

  • संस्था संचालकों ने दी धमकी

गोंदिया. कोरोना से निर्मित आर्थिक संकट कम होने की बजाए बढ़ते ही जा रहे हैं. सुरक्षा की दृष्टि से शाला बंद कर दी गई, पालक भी काम धंदे से वंचित हैं, जिससे शालाओं को शुल्क के लिए तकादा न लगाएं, ऐसे निर्देश दिए गए हैं. शाला बंद है, किंतु ऑनलाइन शिक्षा शुरू है, वहीं अब शालाओं ने शुल्क का कारण बताकर लिंक भेजना बंद कर विद्यार्थियों का ऑनलाइन शिक्षा बंद करने की घटनाएं जिले के अनेक नामांकित स्कूलों में शुरू है. इस ओर शिक्षण विभाग अनदेखी कर रहा है.

पहले ही पालकों को आर्थिक संकट का समाना करना पड़ रहा है. इसमें भी पाल्य शाला में गए नहीं, लेकिन वह भारी भरकम शुल्क का भुगतान कैसे करे? ऐसा प्रश्न पालकों के समक्ष उपस्थित हो गया है. इसकी शिकायत शिक्षण विभाग में की गई है, लेकिन कोई ध्यान नहीं दिया गया. शहर के कुछ संस्था संचालकों ने पालकों को फोन पर आनलाइन शिक्षण बंद करने की धमकी दी है.