पालकों ने बनाई बुक बैंक, फीस कराई कम, पालक एसोसिएशन की वार्षिक साधारण सभा

    गोंदिया. विवेक मंदिर पेरेंट्स द्वारा स्थापित एसोसिएशन की वार्षिक साधारण सभा स्थानीय अग्रसेन भवन में हर्ष अग्रवाल की अध्यक्षता में आयोजित हुई.  सचिव रमन चौरागड़े ने प्रस्तावना रखी. संस्थापक सदस्य  शरद रजनी काथरानी ने पालकों के अधिकारों के बारे में बताया व लीगल ईपीटीए को जरूरी बताया.

    कोरोना के कारण बच्चे स्कूल नहीं गए व पालकों की आर्थिक स्थिति को देखते हुए पेरेंट एसो. ने विवेक मंदिर स्कूल के पालकों की शिकायतों का संज्ञान लेते हुए स्कूल फीस 50 प्रश. लेने के लिए स्कूल मैनेजमेंट को तैयार करवाया जो  एसो. की सबसे बड़ी कामयाबी थी और ये सब विवेक मंदिर स्कूल पालकों के सहयोग और एकता की वजह से ही हो पाया है.

    साथ ही इस वर्ष विवेक मंदिर स्कूल के विद्यार्थियों के लिए बुक बैंक उपक्रम की शुरुआत की गई. जिसमें विवेक मंदिर स्कूल के पालकों ने अपनी पिछली कक्षा कि बुक्स जमा की. उसके पश्चात उन्हें उनके अगली  कक्षा की बुक्स दी गई. बुक बैंक द्वारा इस वर्ष लगभग विवेक मंदिर स्कूल के 400 विद्यार्थी इस उपक्रम से लाभान्वित हुए हैं. 

    सभी पालकों से संगठित होने का किया आह्वान

    किसी भी स्कूल के पालक संगठित होकर वाट्सएप ग्रुप तैयार कर एसो. से संपर्क कर सकते हैं. वे अपने बच्चों की बुक्स डोनेट कर अगले वर्ष की बुक्स नि:शुल्क ले सकते हैं. नए पालकों ने एसो. की सदस्यता भी ली. कोषाध्यक्ष राजेंद्र ठाकुर ने आय व्यय का ब्यौरा प्रस्तुत किया. मनीष चौबे, सतीश अग्रवाल, सचिन आहूजा, वैशाली खोब्रागड़े, कमलेश गौतम, जिप उप मुख्य कार्यपालन अधिकारी संजय गणवीर, सीए मनोज भांडारकर, इंद्रपालसिंग भाटिया उपस्थित थे.

    पालकों में  रितेश अग्रवाल, राजा ईसरका, सुशील लोहिया, नरेंद्र मेसराम , ललित कावरे, सुनील रिनाईत, क्रिष्णा चौरागडे, संतोष आगलावे, रवि लधानी, श्याम गलानी, नितिन बिसेन आदि ने चर्चा में भाग लिया. नए कार्यकाल के लिए सर्वानुमति से वैशाली खोब्रागडे को अध्यक्ष व रमन चौरागड़े को सचिव मनोनीत किया गया.