Review meeting on pre-monsoon preparation
File Photo

काटीनगर. मानसून के दौरान बारिश होने पर काटी परिसर के ग्राम कासा, बिरसोला, तेढवा, डांगोरली, सतोना, कोरणी आदि ग्रामों में बाढ़ का खतरा प्रति वर्ष बना रहता है. इस संबंध में तहसीलदार राजेश भांडारकर ने मानसून पूर्व तैयारी पर बैठक आयोजित कर नदी किनारे के ग्रामों की स्थिति पर चर्चा की. ग्रामों में आपत्ति व्यवस्थापन समिति गठित करने पर सहमति हुई. बाढ़ प्रभावित गांवों में जनजागृति पर जोर दिया गया. 

बैठक में राजस्व निरीक्षक पोरचेट्टीवार, काटी के पटवारी जी.पी.सोनवाने, दासगांव मंडल के पटवारी वालोदे, डेकाटे, सरपंच अशोक गोखले, पुलिस पाटिल क्रांती बिसेन, भूषण उके, रणजीत बानेवार, सेवा सहकारी समिति के अध्यक्ष आनंदराव तुरकर, डा.वैद्य, पंस सदस्य अनिल मते, राजेश सोनवाने, मिताराम भोयर, आशीष चौहान, कोतवाल सुष्मिता हनवते, ग्रापं कर्मी मोहन डोंगरे, प्रकाश चौहान, पूर्व राजस्व निरीक्षक कोल्हाटकर, विमुस के यादोराव बिसेन, डा.गुप्ता आदि उपस्थित थे.