hospital
Representational pic

गोंदिया. ग्राम रजेगांव स्थित ग्रामीण अस्पताल स्वयं बीमार है. जिससे अस्पताल को ही उपचार करने की जरुरत दिखाई दे रही है. इसमें निकटवर्ती 45 ग्रामों के नागरिक स्वास्थ्य सेवा से वंचित है. उन्हें उपचार के लिए अस्पताल छोडक़र शहरों की दौड़ लगानी पड़ रही है.

तहसील में ग्राम रजेगांव स्थित ग्रामीण अस्पताल यह एकमात्र ग्रामीण अस्पताल है. जिसमें 45 ग्रामों के नागरिकों के स्वास्थ्य की जिम्मेदारी इस अस्पताल पर है. वर्तमान में बदलते मौसम के कारण ग्रामीण क्षेत्र में बीमारी पैर पसार रही है. जिससे ग्रामीण अस्पताल में उपचार करने के लिए जाने वाले मरीजों को खाली हाथ वापस लौटना पड़ रहा है.

इस अस्पताल में डाक्टर उपस्थित नही रहते जिससे नागरिकों के हाल बेहाल हो रहे है. इस अस्पताल के कर्मचारी व डाक्टरों के रहने के लिए प्रशासन ने सुविधा की है. लेकिन डाक्टर नियमों की अनदेखी कर बाहर से आना जाना कर रहे है. फिलहाल टाफाईड का जोर दिखाई दे रहा है. इतना ही नही बड़ी संख्या में मृत्यु भी हो रही है.

ग्रामीण क्षेत्र के मरीज रजेगांव ग्रामीण अस्पताल में पहुंच रहे है. जबकि डाक्टर नही होने से उन्हें उपचार के लिए निजी डाक्टरों के पास जाना पड़ रहा है. इस क्षेत्र में बना ग्रामीण अस्पताल व्यवस्था के अभाव में मरीजों को पर्याप्त सुविधा देने में असमर्थ साबित हो रहा है.