Vijaywada Dhanteras Market
File Photo : PTI

  • भाईदूज पर जमकर की खरीदी

गोंदिया. दिवाली त्योहार पर नए वस्त्र परिधान कर महालक्ष्मी की पूजा करने की परंपरा है. इसके अनुसार दिवाली में नए वस्त्र व वस्तुओं की खरीदी की जाती है. जिससे अब तक दिवाली की खरीदी के लिए बाजार नागरिकों की भीड़ से फुल हो गया था.

शनिवार को दिवाली होने के बाद रविवार को बाजार में चारों ओर सन्नाटा पसरा था, किंतु सोमवार को भाईदूज होने से खरीदी करने के लिए बाजार में पुन: लोगों की भारी भीड़ दिखाई दी. जिससे मुख्य बाजार के सभी प्रमुख मार्गो पर आवागमन करने नागरिकों को परेशानी उठानी पड़ी. वर्ष में सबसे बड़ा त्योहार दिवाली होता है.

5 दिनों तक मनाया जाता है त्योहार

5 दिनों वाले त्योहार का पांचों दिन अलग-अलग महत्व है. इसमें धनत्रयोदशी के दिन कुछ नई वस्तु खरीदी करने का मानस होता है. वहीं दिवाली के दिन नए वस्त्र परिधान कर महालक्ष्मी की पूजा की जाती है. कुल मिलाकर दिवाली पर्व निमित्त घर के सभी लोगों को नए वस्त्र व कुछ न कुछ वस्तु खरीदी करने की प्रथा है. जिससे दिवाली में खरीदी करने वाले नागरिकों की बाजार में भीड़ दिखाई दे रही थी.

सुबह से देर रात तक नागरिकों की भीड़ से बाजार हाउसफुल दिखाई दे रहा था. सोमवार को भाईदूज होने से बाजार में पुन: भीड़ दिखाई दी. भाईदूज के दिन अपने भाई को कुछ वस्तु या कपड़े भेंट देने के लिए बहनों ने व अपनी बहनों को कुछ सामान भेंट देने के लिए भाइयों ने बाजार में पहुंचकर खरीददारी की है.