कोरोना मरीज मिलने से पसरा सन्नाटा

गोरेगांव (सं). जिले में कोरोना मरीजों की संख्या ईजाफा होने की खबर जैसे ही तहसील में फैली शहर की सड़कों पर दोबारा सन्नाटा दिखाई देने लगा है. बाजार परिसर में भी इसका असर दिखाई दे रहा है. 21 मई की शाम जिला प्रशासन की ओर से जिले में कोरोना मरीजों की संख्या अचानक 1 से बढ़कर 28 हो जाने की खबर ने खलबली मचा दी है. तहसील के नागरिक अब अधिक सतर्कता बरतने लगे है. पिछले 4 लॉकडाउन में जो सतर्कता नहीं दिखाई दी वह अब दिखाई दे रही है.

अधिकतर नागरिक अपने घरों में लॉकडाउन हो गए है. तथा बहुत जरुरी काम होने पर ही बाहर निकल रहे है. मास्क व सामाजिक अंतर का पूरा ध्यान रखा जा रहा है. ग्रामीण आदि क्षेत्रोंं में भी इसका असर दिखाई दे रहा है. ग्रामीण क्षेत्रों में मुंबई, पूना, नागपुर जैसे रेड जोन से आने वाले व्यक्तियों से दूरी बनाए स्वयं पड़ोसी अब ऐसे व्यक्तियों की जानकारी संबंधित विभाग को दे रहे है.

दुर्भाग्य से बंैकों में अब भी सामाजिक अंतर का पालन नहीं हो रहा है. शहर में दुर्गा चौक, बस स्टाप, थाना चौक की होटल में अब कम भीड़ दिखाई दे रही है. शासकीय कार्यालयों में भी इसका असर दिखाई दे रहा है.