फिल्म शेरनी की शुटिंग के लिए गोंदिया पहुंची विद्या बालन

गोंदिया. प्रख्यात फिल्म अभिनेत्री विद्या बालन का यहां बिरसी विमानतल पर आगमन हुआ. वे रिलांयस कंपनी के चार्टर से यहां पहुंची तथा ताज ग्रुप द्वारा संचालित द गेट वे होटल में रुकी हैं. 

25 नवंबर तक चलेगी शुटिंग 

फिल्म शेरनी की शुटिंग के लिए वे यहां आई हैं. वे पुरी तरह काले रंग के वेशभूषा में थीं तथा चश्मा व मास्क पहना था, 25 नवंबर तक फिल्म की शुटिंग चलेगी व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार  वे 26 नवंबर को बिरसी विमानतल से ही विशेष विमान से वापस लौटेंगी. इस दौरान एक दो बार मुंबई भी जा सकती हैं. 

बालाघाट जिले वन के क्षेत्रों में  होंगी शुटिंग 

जिले की सीमा से लगे मध्य प्रदेश के बालाघाट जिले के  विभिन्न वन क्षेत्रों में शुटिंग होंगी. वर्ष 2019 में विद्या बालन को फिल्म मिशन मंगल में देखा गया था. इसके बाद वह फिल्म शेरनी में नजऱ आने वाली हैं.  जानकारी के अनुसार फिल्म में वह एक वन अधिकारी की भुमिका निभा रही हैं. फिल्म का निर्देशन अमित मासुरकर द्वारा किया जा रहा है. जिसमें विद्या लीड रोल में नजऱ आएंगी. भूषण कुमार, विक्रम मल्होत्रा, कृष्णा कुमार फिल्म को प्रोड्यूस कर रहे हैं. 

दो बड़ी होटलें पुरी बुक

गोंदिया की दो बड़ी होटलें द गेट वे व ग्रेंड सीता पुर्णत: प्रोडक्शन हाउस द्वारा बुक कर ली गई है. ताज समुह द्वारा संचालित द गेट वे के 34 रुम व ग्रेंड सीता के 42 रुम बुक किए गए हैं. इसमें प्रमुख कलाकार गेट वे तथा सहायक कलाकार ग्रेंड सीता में रुके हैं. कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए पुर्णत: होटलें बुक की गई है.   द गेट वे होटल के जिस रुम में विद्या रुकी है वहां सुरक्षा व्यवस्था अलग से की गई है. उनके नास्ते व भोजन के लिए भी रुम के सामने ट्राली में सामग्री रखकर बेल बजा दी  जाती हैं. 

हर क्षण के लिए समुचित सुरक्षा व्यवस्था  

इसके साथ ही प्रोडक्शन हाउस ने विद्या बालन के लिए अतिरिक्त सुरक्षा के इंतजाम किए है. जिसमें पुलिस के अधिकारी व कर्मचारी 24 घंटे होटल में तैनात रहेंगे. ऐसा पहली बार हुआ है कि शहर की होटलों को इतने लंबे समय की बुकिंग मिली है. 

शुटिंग के लिए सख्त निर्देश 

मध्य प्रदेश के बाघालाट के प्रसिध्द जंगलों में फिल्म शेरनी की शूटिंग की इजाजत दी गई है. 21 अक्टुबर से 25 नवंबर तक रेंजर्स कॉलेज बालाघाट, कार्यालय उत्तर बालाघाट सामान्य वन मंडल, बालाघाट वन परिक्षेत्र सामान्य के बीट पयाली के कक्ष क्र. 666 व बीट मंजहारा के कक्ष क्र. 133, लौगूर वन परिक्षेत्र सामान्य के मयूर बिंदु से खारा गांव की सडक़, लौगूर बीट, कक्ष क्र. 115 तथा सागौन वृक्षारोपण क्षेत्र में आवश्यक सुरक्षा प्रोटोकॉल  के साथ शूटिंग होगी इसके लिए  जिल जेड इंटरटेन्मेंट सर्विस, भोपाल द्वारा विधिवित वन विभाग मध्यप्रदेश शासन से अनुमति मांगी गई है. उन्हें अपनी टीम के साथ तय समय पर शूटिंग स्थल पर पहुंचना होगा, वन विभाग ने   शर्तों के साथ शूटिंग की इजाजत दी गई है और तय मापदंड का पालन करने के सख्त निर्देश दिए गए हैं. वहीं शुटिंग के लिए वर्तमान में संरक्षित क्षेत्रों के लिए प्रचलित दर की 25 प्रश दर का भुगतान करना होगा.

लोगों में भारी उत्सुकता 

फिल्म की स्टोरीलाइन का  फिलहाल किसी को ज़्यादा पता नहीं लेकिन निर्देशक अमित मासुरकर ने इससे पहले न्यूटन फिल्म बनाई थी. जिसे कई अवाड्र्स मिले थे. यहां शुट होने से शेरनी फिल्म के प्रति लोगों में उत्सुकता बढ़ गई हैं. 

इससे पुर्व भी हुई थी शुटिंग

इससे पुर्व गोंदिया निवासी अमीत होतचंदानी द्वारा सन 2011 में निर्देशित  मी मामू एंड सेवन नामक फिल्म के लिए गुलशन गौवर व शक्तिकपुर यहां आए थे, इस फिल्म की शुटिंग गोंदिया क्षेत्र के विभिन्न स्थानों में हुई थी. इस दौरान  वे होटल हारमोनी में 5 दिन से अधिक तक रुके थे.