Vaccines applied to the Divyang in Aurangabad

    गोंदिया . कोरोना संक्रमण टीके को लेकर ग्रामीणों में पहले खौफ था कि टीका लगाने के बाद उसका विपरीत असर ना हो जाए. लेकिन जनजागृति करने के बाद ग्रामीण टीकाकरण के लिए आगे आने लगे. जिससे अब कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए शुरू टीकाकरण अभियान ने गति पकड़ ली है.

    जिले में कोरोना टीकाकरण का आंकड़ा 4 लाख को पार कर गया है. राज्य स्तर पर जिले का प्रदर्शन बेहतर रहा है. ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों में भी अब जागृति आने लगी है. कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर ने जिले में जमकर कहर बरपाया है. तीसरी लहर को देखते हुए विशेषज्ञों द्वारा अधिक से अधिक लोगों के टीकाकरण पर जोर दिया जा रहा है. जिले में 28 जून तक 4,06,474 लोगों को वैक्सीन लगाई गई है. लोग टीकाकरण के फायदे को देखते हुए स्वयंस्फूर्त आगे आ रहे हैं.

    जिला प्रशासन द्वारा टीकाकरण के लिए केंद्र बढ़ाए जाने से लोगों को किसी प्रकार की समस्या का सामना नहीं करना पड़ रहा है. शुरुआत से ही 45 से 60 वर्ष आयु के बीच के लोग आगे हैं. अब तक 1,84,076 लेागों ने वैक्सीन लगवाई है. जिनमें से 1,48,720 लोगों ने पहला तथा 35356 लोगों ने दूसरा डोज लिया है. 60 वर्ष से ऊपर के समूह में 1,13,010 लोगों ने वैक्सीन लगवाई है. 85759 ने पहला तथा 27251 लोगों ने दूसरा डोज लिया है.

    केंद्र सरकार ने 21 जून से 18 वर्ष आयु से ऊपर के लोगों को टीकाकरण की अनुमति दी है. लेकिन राज्य सरकार ने 30 वर्ष से ऊपर के लोगों को वैक्सीन की अनुमति दी है और उसके अनुसार वैक्सीनेशन शुरू है. युवा वर्ग शुरूआत से ही वैक्सीनेशन के इंतजार में था. टीकाकरण में भी युवा वर्ग बढ़ चढ़कर हिस्सा ले रहा है. अब तक 55654 युवाओं ने वैक्सीन ली है. इनमें 48992 युवाओं ने पहला तथा 6662 युवाओं ने दूसरा डोज लिया है.

    आदिवासी बहुल क्षेत्र में गति

    टीकाकरण को लेकर नागरिकों में कुछ भ्रम की स्थिति पैदा हो गई थी. जिससे लोग टीका लगाने से डर रहे थे. टीकाकरण अभियान को गति नहीं मिल रही थी. लेकिन कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर व टीकाकरण पर किए गए अध्ययन से सामने आए तथ्यों को ध्यान में रखते हुए लोगों का भय दूर हो रहा है. यही वजह है कि अब देवरी जैसे आदिवासी तहसील में टीकाकरण को गति मिल रही है. तहसील के ग्रामीण क्षेत्र में भी वैक्सीन लगाने वालों की संख्या बढ़ रही है.

    3.18 लाख लोगों ने ली पहली डोज

    जिले में अब तक 3,18,525 लोगों ने पहला डोज लिया है. 87949 लोगों ने दूसरी वैक्सीन लिया है. 2,59,686 लोगों ने कोविशील्ड तथा 1,46,788 लोगों ने कोवैक्सीन ली है.