कार्यकर्ताओं को पार्टी की जनहित नीति लोगों तक पहुंचानी चाहिए- नवाब मलिक

    तिरोड़ा . तिरोड़ा स्थित कुंभारे लॉन में पालकमंत्री नवाब मलिक की उपस्थिति में पार्टी पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं की बैठक में मार्गदर्शन करते हुए पालकमंत्री नवाब मलिक ने कहा कि आने वाले चुनावों में सांसद प्रफुल्ल पटेल के नेतृत्व में पार्टी कार्यकर्ता एनसीपी को तिरोड़ा नप, पंस और जिप में सत्ता में बने रहने के लिए कड़ी मेहनत करें.

    कोरोना  में राज्य सरकार ने उचित योजना बनाकर कोरोना को नियंत्रण में लाने का काम किया है, रबी सीजन का धान खरीदेंगे किसान, किसानों को जल्द मिलेगा बोनस जब राज्य में भाजपा की सरकार थी और अब केंद्र सरकार भाजपा की है, तो उसने ओबीसी समुदाय को आरक्षण देने के लिए क्या किया? शरद पवार ने आरक्षण लागू किया. हम तब तक चुनाव नहीं होने देंगे जब तक ओबीसी समुदाय को राजनीतिक आरक्षण नहीं मिल जाता, सत्ता से हटाए जाने से निराश भाजपा और अन्य विपक्षी नेता महाविकास अघाड़ी सरकार के खिलाफ लोगों के मन में भ्रम पैदा कर रहे हैं.

    गठबंधन सरकार वर्तमान में सभी स्तरों पर अच्छा प्रदर्शन कर रही है, जो विपक्ष के गुस्से का कारण है. पूर्व विधायक राजेन्द्र जैन ने कहा कि यदि राकांपा के सभी पदाधिकारी अपने मतभेदों को भुलाकर प्रफुल्ल पटेल के हाथ मजबूत करने का काम करें तो आने वाले चुनाव में तस्वीर कुछ अलग दिखेगी और राकांपा के मंत्र को अमल में लाया जाए.

    हर घर में हर  पल राष्ट्रवादी का मंत्र कार्यकर्ताओं ने अमल में लाना चाहिए. विधायक  मनोहर चंद्रीकापुरे, पूर्व सांसद खुशाल बोपचे, विजय शिवनकर,  योगेंद्र भगत, गंगाधर परशुरामकर, लोकपाल गहाणे, प्रेमकुमार रहांगडाले, मनोज डोंगरे, कैलास पटले, सुनीता मडावी, किशोर तरोणे,  रविकांत बोपचे, निता रहांगडाले, रफीक खान, जया धावडे, डॉ अविनाश जायस्वाल, जीबराईल खान पठान, नरेश कुंभारे, जगण धुर्वे, डॉ किशोर पारधी, डॉ सुशील रहांगडाले, प्रभू असाटी, यशवंत परशुरामकर, विजय बुराडे, राजु केशरवाणी, मनोहर राऊत, किरण बन्सोड, माया भगत, सविता पटले, राजु ठाकरे,राजेश तुरकर, किरण पारधी, नितेश खोब्रागडे, धमेंद्र बोपचे, अनिल भगत, बालु तिडके, भुमेश्वर रंगारी, कुवरलाल रहांगडाले,  आनंद बैस, हेमराज अंबुले,  जगदीश बावनथडे,  राजेंद्र पटले, उमालाल पटले, भवानी बैस, आसु पटले,  वसीम बैस,जगदीश कटरे,सोनाली श्रीरामे, ममता हट्टेवार शाइन मिर्जा, नत्थु अंबुले, संध्या गजभिये, राजेश श्रीरामे, डा. मोहित गौतम, डा. प्रदीप रोकडे, रामकुमार असाटी , रामसागर धावडे, डोमडे काकाजी , टूंडीलाल शरणागत व राजू एन जैन आदि उपस्थित थे.