गर्भवती महिलाओं के खान-पान पर एक्सपर्ट्स की क्या है सलाह, ज़रूर जानें

    सीमा कुमारी

    नई दिल्ली : गर्भवती महिलाओं (pregnant women) को प्रेग्नेंसी के दौरान अपनी सेहत का खास ख्याल रखना पड़ता है।  क्योंकि, गर्भावस्था (pregnancy) के दौरान बच्चे और मां दोनों की सेहत पर विशेष ध्यान देने की जरूरत होती है। इस  दौरान खान-पान से लेकर सही वजन पर भी ध्यान देना चाहिए।

    डाइट एक्सपर्ट्स (Diet Experts) का मानना है कि, इस समय महिलाओं को अपनी डाइट में कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन और गुड फैट जैसे सभी न्यूट्रिशन शामिल करने चाहिए।

    आइए जानें गर्भवती महिलाओं को कौन सी चीजों का सेवन करना चाहिए:

     डाइट एक्सपर्ट्स के मुताबिक, गर्भवती महिलाओं के लिए आयरन (Iron rich food) बहुत जरूरी है। क्योंकि आयरन की कमी से रक्त (blood) में हीमोग्लोबिन की मात्रा कम हो सकती है। इसके लिए पालक, गुड़, मूंगफली, मेथी, बथुआ, ब्रोकली, तरबूज, सोयाबीन और हरी मटर खानी चाहिए। आयरन की कमी से गर्भवती महिला को एनीमिया (anaemia) की शिकायत हो सकती है, जो मां और गर्भ में पल रहे बच्चे, दोनों के लिए खतरनाक है। 

    डॉक्टर रंजना सिंह की मानें तो प्रेगनेंसी में ज्यादा फाइबर वाले फल (Fiber rich fruits) खाने चाहिए। इसके लिए आप सेब, नाशपाती, संतरा, अमरूद, जामुन, आड़ू और बेरीज खा सकती हैं। इन चीजों के सेवन से ब्लड शुगर और एनर्जी लेवल सही रहेगा। रोज सुबह नींबू पानी (lemon water) पीना गर्भवती महिलाओं के लिए अच्छा होता है।

    एक्सपर्ट्स के अनुसार, इस दौरान जितना हो सके प्रोसेस्ड या पैकेज्ड फूड, अल्कोहल, ज्यादा कैफीन, आर्टिफिशियल स्वीटनर, कच्चा अंडा और कच्ची मछली खाने से बचना चाहिए।

    एक ही समय बहुत ज्यादा मात्रा में खाने की  बजाय थोड़ा-थोड़ा करके दिन में कई बार खाएं और अपने मन से किसी भी प्रकार की दवा का सेवन न करें।

     प्रोटीन गर्भवती महिलाओं के अंदर यूट्रस  के फंक्शन को स्ट्रेंथ देता है। जिन महिलाओं में गर्भावस्था (during pregnancy) के दौरान शारीरिक कमजोरी की शिकायत होती है, यह उस कमजोरी को भी दूर करता है। इसके लिए दाल, दूध, दही, अंडा, मूंगफली और पनीर खाएं। 

    एक ओर जहां आपको अपने खाने-पीने का पूरा ख्याल रखने की जरूरत है, वहीं ये भी जरूरी है कि आप इस दौरान लगने वाला एक भी वैक्सीनेशन (vaccines during pregnancy) भूलें नहीं। अगर आप कुछ दिन लेट भी हो जाती हैं, तो डॉक्टर से परामर्श लेकर उसे तुरंत लगवा लें।

    एक्सपर्ट्स बताते हैं कि, फोलिक एसिड (Follic Acid) की पर्याप्त मात्रा लेना बहुत जरूरी है। हरी पत्त‍ियों में पाया जाने वाला फोलिक एसिड बच्चे के जन्म से जुड़ी कई परेशानियों से बचाने का काम करता है।

    गर्भावस्था के दौरान जंक फूड खाने से परहेज करना ही बेहतर होगा।  इसमें उच्च मात्रा में फैट होता है, जिसकी वजह से कोलेस्ट्रॉल बढ़ने का खतरा हो सकता है। ऐसे में कोशिश करें कि इस दौरान जंक फूड (junk food) खाने से परहेज करें।इन सभी बातों का विशेष ध्यान देकर गर्भवती महिलाएं अपने सेहत का ख़ास ख्याल रख सकती हैं।