महिलाओं में बढ़ रहा है ब्रेस्ट कैंसर, यह लक्षण करते हैं इसकी तरफ इशारा

महिलाओं में आज के दौर में सबसे बड़ी बीमारी स्तन कैंसर को माना जा रहा है। इस बीमारी को लेकर लोगों को जागरूक करने के लिए हर साल अक्टूबर को दुनियाभर के देशों में स्तन कैंसर जागरूकता माह मनाया जाता है। स्तन कैंसर की वजह से कई महिलाएं दुबारा जीने की आशा ही छोड़ देती हैं। यह बीमारी उनके अस्तित्व पर बहुत गहरी चोट पहुंचता है।

ऐसी कई रिसर्च से यह पता चला है कि हॉर्मोन्स, लाइफस्टाइल और वातावरण के कुछ फैक्टर्स होते हैं, जिनसे ब्रेस्ट कैंसर के चांसेज बढ़ जाते हैं। ब्रेस्ट कैंसर में कैंसर सेल्स ब्रेस्ट के टिश्यूज़ में बनती हैं। ब्रेस्ट के सेल्स से शुरू होकर ब्रेस्ट कैंसर आसपास के टिश्यूज और पूरे शरीर में फैल सकता है।

वहीं एक रिपोर्ट से पता चला है कि 50 प्रतिशत से ज़्यादा भारतीय महिलाएं स्तन कैंसर के स्टेज 3 और 4 से पीड़ित हैं। हर महिलाओं में ब्रेस्ट कैंसर के लक्षण अलग-अलग होते हैं। यह इतने आम होते हैं कि इनको पहचानना मुश्किल होता है। तो आइए जानते हैं इन लक्षणों के बारे में, जिसे आपको जानना बहुत आवश्यक है। 

स्तन कैंसर के लक्षण-

  • महिलाओं को अपने ब्रेस्ट के आकार और शेप पर हमेशा ध्यान देते रहना चाहिए। अगर उनमें कभी परिवर्तन नज़र आए तो डॉक्टर के पास ज़रूर जाना चाहिए।   
  • अगर कभी आपके स्तन या अंडरआर्म में गांठ बनाना शुरू हो जाए तो यह भी स्तन कैंसर के लक्षण हो सकते हैं। इसे जल्द ठीक नहीं किया गया तो यह भयानक रूप भी ले सकते हैं।
  • कभी भी ब्रेस्ट में अचानक दर्द होना या स्तन के किसी हिस्से में हमेशा दर्द रहना भी स्तन कैंसर के ही लक्षण होते हैं। 
  • बहुत सी महिलाओं को स्तन में हमेशा सूजन भी बानी होती है। 
  • इन सभी लक्षणों के दिखने पर तुरंत डॉक्टर के पास जाकर उपचार की प्रकिया शुरू कर देने में ही भलाई है। अन्यथा यह बेहद दुखदाई भी हो सकता है।