डायबिटीज पेशेंट ऐसे खाएं सत्तू, काबू में रहेगा ब्लड शुगर लेवल

    -सीमा कुमारी

    बिहार का लोकप्रिय भोजन सत्तू न सिर्फ खाने में स्वादिष्ट होता है,  बल्कि इसके सेवन से कई रोगों को ठीक भी किया जा सकता है। सत्तू का सेवन गर्मियों में खूब किया जाता है।

    क्या आप ये जानते हैं कि सत्तू डायबिटीज पेशेंट के लिए भी लाभकारी होता है। बस इसका कैसे और किस मात्रा में इस्तेमाल करना है, इस बात की जानकारी होना आपके लिए बहुत जरूरी है। आइए जानें सत्तू के फायदे के बारे में…

    • हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक, सत्तू में मिनरल्स, आयरन, मैग्नीशियम और फॉस्फोरस पाया जाता है, जो आपके शरीर की थकान मिटाकर आपको इंस्टेंट एनर्जी देने का काम करता है। ऐसे में सत्तू का सेवन शरीर की थकान मिटाने के लिए जरूर करना चाहिए।
    • एक्सपर्ट्स बताते हैं कि, डायबिटीज पेशेंट के लिए सत्तू बहुत लाभकारी होता है। सत्तू में बीटा ग्लूकेन मौजूद होता है जो शरीर में बढ़ते ग्लूकोज के अवशोषण को कम करने में मदद करता है। लिहाजा खून में ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रण करने में मदद मिलती है। मधुमेह (diabetes) के रोगी दिन में एक गिलास सत्तू का पानी पिएं। इससे कुछ ही दिनों में असर दिखने लगेगा। इस बात का ध्यान रखें कि एक दिन में एक गिलास से ऊपर सत्तू का पानी ना पीएं। ऐसा करने से एसिडिटी और पेट में दर्द जैसी समस्याएं होने लगती हैं।
    • सत्तू का सेवन गर्मियों में खूब किया जाता है, क्योंकि सत्तू की तासीर ठंडी होने की वजह से गर्मियों में इसका सेवन करने की सलाह दी जाती है। यह पेट को ठंडा रखने में भी मदद करता है, जिसकी वजह से व्यक्ति को लू नहीं लगती है। सत्तू शरीर का तापमान नियंत्रित रहता है, जिससे पेट संबंधी कई बीमारियों से बचाव होता है।
    • सत्तू कई पोषण तत्वों से भरपूर होता है। ये न केवल शरीर को एनर्जी देता है बल्कि मेटाबॉलिज्म को भी बूस्ट करता है और वजन को कम करने में भी मदद करता है। इसके साथ ही डाइजेशन सिस्टम को बेहतर कर कोलेस्ट्रॉल को भी कंट्रोल करने में मदद करता है। ऐसे में इसका सेवन करना सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होता है।  

    इन सामान्य घरेलू नुस्खों को अपनाकर आप सेहतमंद रह सकते हैं