सर्दियों में मछली खाने के हैं अनेकों फायदे

-सीमा कुमारी

कुछ लोग सर्दी से बचने के लिए नाॅनवेज फूड्स का सहारा लेते हैं| वैसे तो नाॅनवेज फूड कई सारे हैं पर मैं आज मछली खाने की बात करुँगी,  मछली में कई प्रकार के पोषक तत्व पाए जाते हैं| जैसे – प्रोटीन, विटामिन डी, विटामिन बी 2, ओमेगा-3 फैटी एसिड| जो आपको कई बीमारियों से बचाने में मदद करता है| शरीर को गर्माहट देकर खांसी जुकाम और बुखार से बचाते हैं। आपको छोटी-मोटी प्रॉब्लम के साथ-साथ वायरल इंफेक्शन से भी बचाकर रखता है| इसलिए मछली खाना सेहत के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है| सर्दियों में सोल, सिंगाड़ा, मल्ली मछलियों की मांग अधिक होती है|

सर्दियों में क्यों खानी चाहिए मछली और खाने का सही समय-
मछली को नाश्ते या दोपहर के समय खाना ज्यादा फायदेमंद होता है क्योंकि इससे इसे डाइजेस्ट करने में आसानी होती है। साथ ही मछली का सेवन दिन में एक समय और हफ्ते में 2 से 3 बार ही करना चाहिए।दरअसल, मछली की तासीर गर्म होती है और सर्दियों में इसका सेवन करने से शरीर गर्म रहता है। इससे आप कई बीमारियों से बचे रहते हैं।

मछली रखे दिमाग को तेज-
मछली का सेवन करने से दिमाग तेज रहता है और  इससे मानसिक विकार और अल्जाइमर का खतरा भी कम होता है।  इसमें मौजूद प्रोटीन से मस्त‍िष्क की नई कोशिकाओं का निर्माण होता है, जिससे स्मरण शक्ति बढ़ती है और कैंसर से बचाव भी होता है | जो लोग हफ्ते में एक बार मछली का सेवन करते हैं उनमें ब्रेस्ट कैंसर  प्रोस्टेट कैंसर का खतरा काफी हद तक नहीं होता है। मछली में ओमेगा-3 फैटी एसिड  पाया जाता है, जो कैंसर से बचाव करता है।

हाई ब्लड प्रेशर के साथ दिल का रखे ख्याल-
मछली में लो फैट होता है जिसकी वजह से हाई-ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है।लो-कैलोरी फूड होने के कारण इसका सेवन कोलेस्ट्रॉल लेवल को कंट्रोल में रखता है|

बढ़ती है आंखों की रोशनी-
जो लोग मछली खाते हैं उनमें अस्थमा के होने की संभावना कम होती है और श्वास से संबंधित बीमारी नहीं होती है |विटामिन ए के कारण मछली का सेवन आंखों के लिए भी फायदेमंद होता है। मछली खाने से आंखों की रोशनी बढती है और साथ ही मोतियाबिंद व आंखों में सूखेपन जैसी समस्याएं भी दूर रहती है।