कम हो गई है याददाश्त तो इस तरह करें मेमोरी बूस्ट

आज के दौर में लोग इतने मशरूफ हो गए हैं कि लोगों को अपना ख्याल रखने का भी टाइम नहीं है। इन सब चीज़ों का असर हमारे याददाश्त पर पड़ता है। अक्सर देखा जाता है कि हम अपनी छोटी-छोटी बाते भूल जाते हैं, कुछ सामान रखकर भूल जाते हैं या कुछ पढ़ा हुआ भूल जाते हैं। वैसे तो यह सब बढ़ती उम्र के साथ होना आम है, लेकिन अब याददाश्त की कमी युवा और बच्चों में भी देखा जा रहा है। तो आइए आज हम आपको बताते हैं कि कैसे अपने मेमोरी को बूस्ट करें…

मेंटल वर्कआउट करें:
याददाश्त को बढ़ाने के लिए जितना हो सके उतना अपने दिमाग को चुनौती दें। ऐसा करने से हमारा दिमाग सही तरह से काम करता है। इसके लिए जटिल अवधारणाओं का अध्ययन करने से दिमाग की पावर बढ़ सकती हैं। इसलिए जितना ज़्यादा हो सके उतना पढ़ें। पढ़ना बेहद बुनियादी क़िस्म की एक शानदार मानसिक एक्सरसाइज़ है। साथ ही इससे शब्द-ज्ञान भी बढ़ता है। 

नींद अधिक लें:
याददाश्त बढ़ाने के लिए जितना हो सके उतना अधिक नींद लें। अपने दिमाग को आराम देने की बहुत ज़रूरत होती है। यदि आपको पर्याप्त नींद नहीं मिलती है, तो आप अपनी याददाश्त खोते रहते हैं और चीजों को भूलने लगते हैं। 

व्यायाम करें:
एक्सरसाइज़ करने से आपकी दिल की गति बढ़ती है, जो आपके मस्तिष्क में रक्त प्रवाहित करती है, जिससे आपकी याददाश्त तेज़ होती है। इसलिए किसी भी व्यायाम को काम से काम 30 मिनट तक करें। इससे आपकी याददाश्त बढ़ती है। 

कम शुगर इस्तमाल:
याददाश्त को बढ़ाने और काम करने में हमारा डाइट अहम भूमिका निभाता है। एक रिसर्च से पता चला है कि जो लोग अपनी डाइट में बहुत अधिक चीनी का इस्तेमाल करते हैं, उनकी याददाश्त कमजोर होती है। इसलिए अपनी डाइट में चीनी का जितना हो सके उतना कम उपयोग करें।