इन तरीकों को अपनाकर रखें अपने दिल को स्वस्थ

हृदय हमारे जीवन के लिए बेहद महत्वपूर्ण है, इसके बिना जीवन ही असंभव है। हृदय संबंधी जागरूकता फैलाने के लिए पूरे विश्व में हर साल 29 सितंबर को हृदय दिवस मनाया जाता है। इस आयोजन की पहल विश्व हृदय संघ के निदेशक ने 1999 में आंटोनी बेस दे लुना ने डब्ल्यूएचओ (WHO) के साथ मिलकर की थी।

विश्व हृदय दिवस, लोगों को दिल से जुड़ी जानकारी देने के लिए मनाया जाता है। इस दिन लोगों को शिक्षा प्रदान की जाती है कि कैसे दिल को सेहतमंद रखें। अगर हृदय स्वस्थ रहेगा तब ही हम भी स्वस्थ रह पाएंगे। वहीं दिल को सेहतमंद रखने के लिए फिज़िकल एक्टिवटी बेहद ज़रूरी होती है। अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन के अनुसार, स्वस्थ हृदय के लिए सप्ताह में 6 दिन 30-45 मिनट का वर्कआउट काफी है। तो आइए जानें कौन से हैं वह वर्कआउट…

डांसिंग-

दिल को स्वस्थ रखने के लिए आप डांसिंग को अपना सकते हैं। यह बेहद ही रोमांचक वर्कआउट भी है। इसे आप अपनी कैपेसिटी के मुताबिक कितनी भी देर कर सकते हैं। इसके लिए आपको बस शानदार संगीत और थोड़ी सी जगह की ज़रूरत होती है। इसके अलावा आप ज़ुम्बा भी कर सकते हैं, जो इन दिनों काफी ट्रेंड में है, साथ ही एरोबिक भी एक अच्छा विकल्प है। 

जॉगिंग-

हार्ट को फिट रखने के लिए जॉगिंग भी एक शानदार तरीका है। बस इस बात का ध्यान ज़रूर रखें कि टार्गेट हार्ट रेट 60-75 प्रतिशत तक पहुंचना चाहिए। साथ ही इस टारगेट को रोज़ 10-15 मिनट तक  बनाए रखें। आप अपने हार्ट रेट को मौजूद फिटनेस गैजेट से चेक कर सकते हैं।

साइक्लिंग-

एक्सपर्ट्स कहते हैं कि रोजाना लगभग 25-30 मिनट तक साइकिल चलाना कई तरह से फायदा पहुंचाता है। बढ़ती उम्र के कई लोगों को पीठ और घुटने की बीमारियां होती हैं। लंबी दूरी तक जॉगिंग करने या चलने में भी सक्षम नहीं होते हैं। उनके लिए साइक्लिंग बेहतर विकल्प है। यह हमारे पूरे अंग को फिट रखती है और ब्लड सर्कुलेशन को भी बढ़ाती है।

स्विमिंग-

हृदय को स्वस्थ रखने के लिए एक सप्ताह में ढाई से तीन घंटे तैरना एक बेहतर विकल्प है, एक्सपर्ट्स इसका सुझाव देते हैं। स्विमिंग करने से आपके शरीर का हर पार्ट एक्टिव रहता है। साथ ही यह उनके लिए भी अच्छा विकल्प है जो घुटनों की समस्या से जूझ रहे हैं।