Lady in Tension
Representational Purpose Only

    -वैष्णवी वंजारी 

    बढ़ते कोरोना महामारी को देखते हुए सभी के जीवन में एक अनचाहा बदलाव आया है। किसी की नौकरी चली गयी तो किसी के अपने इस दुनिया को अलविदा कह गए या फिर किसी का कारोबार बंद हो गया। इन सभी कारणों की वजह से लोगों में काफी तनाव पैदा हुआ है। ऐसे में खुद को स्वस्थ रखना बहुत आवश्यक है। तो चलिए जानते हैं कुछ ऐसे सरल उपाय जिससे तनाव को कम किया जा सकता है।।।  

    तनाव से बचने के लिए अपनाएं ये टिप्स :

    आंख बंद कर गहरी सांसें लें : जब काम के दौरान तथा घर पर रहते वक्त तनाव हो तो अपनी सीट पर बैठकर आंखें बंद कर गहरी सांस लें। यह एक ऐसा व्यायाम है जो अंदर शांति लाता है और तनाव व डर को दूर करता है। विशेषज्ञों के अनुसार डीप ब्रीथिंग करने से मन को सुकून मिलता है।यदि आप अपने शरीर और मस्तिष्क को शांत करना चाहते हैं, तो सोने से कम से कम एक घंटे पहले आराम करें। अपने स्मार्टफोन को नीचे रखें उसमें वक्त नहीं बिताएं। गर्म पानी से नहाएं, किताब पढ़े, म्यूजिक सुने और ध्यान करें। मानसिक स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए ये सभी आदतें बहुत प्रभावी साबित हो सकती है।

    सही  दिनचर्या (Lifestyle) चुने :

    हमारी लाइफस्टाइल हमें सफल  बना सकती है तो हमें असफल भी कर सकती है। इसलिए हमें अपनी दिनचर्या को सही बनाना चाहिए। जिस प्रकार से नियमित  समय पर सोना जरूरी है, ठीक उसी प्रकार से सुबह नियत समय पर उठना भी जरूरी है। उठने के बाद योग और व्यायाम अवश्य करे। इसके बाद पौष्टिक नाश्ता ले। भोजन में पोषक तत्वों को शामिल करें।  यदि आपको इसमें परेशानी हो रही है तो किसी एक्सपर्ट से या डाइटीशियन की हेल्प ले। 

    अपने समय का प्रबंधन करे: आज के भागदौड़ वाले समय में यह बहुत जरुरी है की आप अपने दिनभर के कार्यो की सूची बनाये और सबसे पहले जरुरी कार्यो को पूरा करे। जरुरी कार्यो को टाले नहीं अन्यथा वे बाद में तनाव का कारण बनेंगे। आप अपने उन कार्यो को दिन में पूरा करने की सोचे जो आपके लिए बहुत जरुरी है। अपने समय को व्यर्थ में न गवाएं।  

    सकारात्मक सोच जरूरी है: चाहे कैसी भी स्थितियां आये।  अपनी सोच सकारात्मक रखें। अगर आपकी सोच नकारात्मक हो गयी तो आप किसी भी समस्या का समाधान नहीं कर सकते। साथ में आपको इससे केवल परेशानी ही होगी जबकि सकारात्मक  विचार के बल पर आप बड़ी से बड़ी समस्या का हल आसानी से निकाल सकते है।  नकारात्मक सोचने से हमारी कार्य  करने की क्षमता भी प्रभावित होती है। 

    स्वयं के लिए समय निकाले: जिंदगी जीने के लिए जितना जरूरी कार्य करना है उतना ही जरूरी है अपने लिए समय निकालना हैं।  केवल काम करते-करते  में एकरसता आ जाती है। इस एकरसता को तोड़ना जरूरी है, इसके टूटने पर ही नयी ऊर्जा मिलती है। समय-समय पर तमाम व्यस्तताओं के बीच मौज-मस्ती के लिए समय निकालना बहुत जरूरी है। स्वयं को थोड़ा अधिक समय देने का प्रयास करें।  ज़रूरी नहीं है कि हर काम घड़ी देखकर किया जाए।  समय की कमी हो तो मीटिंग टाल दें।  यदि फोन या ईमेल से बात बनती हो तो मिलने की क्या जरूरत है ? यदि यह संभव न हो तो मीटिंग का कोई वक़्त फिक्स न करें। इस तरह कभी-कभार बचने वाले थोड़े-थोड़े समय को स्वयं को देने में या पसंदीदा काम करने में लगायें। 

    संबंधियों के साथ रहे: किसी ने बहुत ही सही कहा है की ख़ुशी के पल को चार संबंधियों संग बांटने पर वह चार गुना और बढ़ जाती है, जबकि दुःख को चार संबंधियों संग बांटने पर वह एक चौथाई ही रह जाता है। इसलिए सुख हो या दुःख उसे अपने संबंधियों के साथ जरुर शेयर करे।  इसके साथ ही समय-समय पर अपने संबंधियों से मिलने का मौका निकाले।  ऐसा न हो की केवल जरुरत के समय ही आप उनको याद करे। हमारा जीवन संबंधियों और रिश्तेदारों का साथ मिलने से और बेहतर बन जाता है। 

    दूसरों की मदद करें: दूसरों की मदद करना एक बहुत ही उच्च कोटि का गुण होता है। जो आपको बहुत खास बना देता है। अगर आप तनाव में हो और तब आप अगर किसी गरीब की या जरूरतमंद व्यक्ति की सहायता करते हो तो निश्चित है की आपका तनाव बहुत हद तक कम हो जायेगा। किसी की मदद करने से मिलने वाली सन्तुष्टि हमारे तनाव स्तर को कम करती है और हमें तनाव से मुक्त होने में मदद करती है। जब दूसरों का जीवन बेहतर होगा तभी आपका जीवन बेहतर बनेगा।

    सुबह जल्दी उठें: अगर सभी से यह पूछा जाए की आप सुबह देरी से उठे तो लगभग सभी लोग यही चाहेंगे। आराम हर कोई करना चाहता है लेकिन यह आराम हमारे लिए हराम भी हो सकता है।  देर से उठना कई परेशानियों की जड़ है। किसी दिन अगर आप कुछ समय लेट में उठते हो तो आपने जरूर यह नोट किया होगा की आपको सभी काम करने के लिए बड़ी मशक्कत करनी पड़ती है। हमारे काम पर इसका बुरा प्रभाव पड़ता है। जल्दी उठने की आदत डालें। यह आपको कई फायदे देगा और साथ में आपको तनाव से भी दूर रखेगा। 

    व्यायाम करें और तनाव भगाइए: बचपन से हम सुनते आ रहे है की हमें रोजाना व्यायाम करना चाहिए।  पर हम कभी भी इस बात को सीरियसली नहीं लेते। हम व्यायाम करने के लिए आलस करते है। अगर आप रोजाना व्यायाम करते हो तो आपको तनाव को कम करने में बहुत मदद मिलती हैं।  क्योंकि व्यायाम के समय और बाद में हमारी मांसपेशियों की बहुत अच्छी एक्सरासाइज़ होती है और उन्हें आराम भी मिलता है। जिस से हमें नींद लेने में आसानी होती है और हमारा मूड भी अच्छा रहता है। इसलिए रोज व्यायाम जरूर करें।