Learn the benefits of eating cloves and its use

-सीमा कुमारी

लौंग एक प्रकार का मसाला है. इस मसाले का उपयोग भारतीय पकवानों में बहुतायत मे किया जाता है. आप अक्सर देखते होंगे की घर में जब पोलाव, काला चाय आदि बनती है तो इसमें लौंग डाला जाता है. इसे औषधि के रूप मे भी उपयोग किया जाता है. लौंग का वानस्पतिक नाम Syzygium aromaticum और अंग्रेजी नाम क्लोव है. क्लोव का नाम  लैटिन शब्द क्लैवस से निकला है. इस शब्द से कील या काँटे का बोध होता है. लौंग देखने में इतना छोटा होता है, लेकिन इसका फ़ायदा उतना ही बड़ा है. ये कई सारी बिमारियों के लिए रामबाण दबाई के रूप में काम करता है. तो आपको बताते है की लौंग खाने से क्या फ़ायदा मिलता है?

जानिए लौंग के फायदे:

  • लौंग के तेल को रूई के फाहे में लगाकर दांतों में लगाएं या लौंग को धीरे धीरे चबाएं. इससे दांतों के दर्द से आराम मिलता है. इससे दांत में लगे कीड़े भी खत्म हो जाते हैं.
  • फगल इंफेक्शन, कटना, जलना, घाव, खुजली आदि में उपयोग करने पर कीटाणुओं का खात्मा कर प्रभावित स्थान को जल्दी ठीक करता है. लौंग के तेल को नारियल के तेल में मिलाकर संबंधित स्थान पर लगाया जाता है. क्यों की लौंग एंटीसेप्टिक, एंटीबायोटिक और एंटी फगल गुणों से भरपूर है.
  • लौंग में एंटीइंफ्लेमेटरी प्रभाव होता है, जो सर्दी और खांसी को कम कर सकता है. दरअसल, यह एक्सपेक्टोरेंट की तरह काम करता है. जो पूरे बलगम को मुंह से निकालकर ऊपरी श्वसन तंत्र को साफ कर सकता है.
  • लौंग खाने से हमें विटमिन-B के कई प्रकार और पोषण मिलते हैं. जैसे, विटमिन-B1,B2,B4,B6,B9 और विटमिन-सी तथा बीटा कैरोटीन जैसे तत्व होते हैं. साथ ही विटमिन-K, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट जैसे कई तत्व हमें लौंग से मिलते हैं. कहा जाता है कि लौंग में करीब 30 प्रतिशत फाइवर होता है. इन खूबियों के चलते लौंग खासतौर पर सर्दियों में हमें कई बीमारियों से बचाती है.
  • लौंग गैस के लिए भी फ़ायदा है. 8-10 ग्राम लौंग, 8-10 ग्राम सोंठ, अजवायन और 8-10 ग्राम सेंधा नमक तथा 40-45 ग्राम गुड़ को पीस लें. इसकी 325-325 मिग्रा की गोलियाँ बना लें. 1 गोली को दिन में 2-3 बार सेवन करने से पेट की गैस की समस्या ठीक होती है.