File Photo
File Photo

    -सीमा कुमारी

    कोरोना (Corona Pandemic) का कहर अभी पूरी तरह थमा नहीं है।  ऐसे में बहुत से लोग इसी गलतफहमी में हैं कि उन्हें वैक्सीन लग गई है, तो अब किसी भी तरह का कोई खतरा नहीं। जबकि हेल्थ एक्सपर्ट्स की मानें तो वैक्सीनेशन (vaccination) के बाद भी पूरी सावधानी बरतना बेहद जरूरी है। क्योंकि, कोरोना का नया वेरिएंट ‘डेल्टा प्लस’ (Delta Plus Covid-19) को लेकर चिंताजनक स्वरूप’ के तौर पर कैटेगराइज कर दिया गया है।

    स्वास्थ्य मंत्रालय की मानें तो ‘डेल्टा प्लस वेरिएंट( Delta Plus Variant ) फेफड़ों (Lungs) के लिए घातक साबित हो सकता है। इस वेरिएंट के लक्षण इतने घातक हैं कि यह फेफड़े की कोशिकाओं में पहले के मुकाबले ज्यादा मजबूती से चिपक सकता है। फेफड़े बुरी तरह संक्रमित हो सकते हैं।इसके अलावा, ये इम्यूनिटी  (immunity) को बेहद कमजोर कर सकता है। गंभीर लक्षणों (symptoms) की बात करें तो फिलहाल गंभीर रूप से खांसी, सिर दर्द, गले में खराश, नाक बहना, सांस फूलना, सांस लेने में दिक्कत जैसे लक्षण दिखाई दे रहे हैं।

    डेल्टा वायरस (Delta Plus) फेफड़ों को सबसे पहले अपना शिकार बना रहा है। इसलिए लंग्स हैल्थ का खास ध्यान रखें। फेफड़ों को डिटॉक्स करना बहुत जरूरी है, क्योंकि अगर फेफड़े स्वस्थ नहीं रहेंगे तो अस्थमा, ब्रोंकाइटिस, निमोनिया, टीबी, फेफड़ों का कैंसर जैसी कई बीमारियों का खतरा बना रहेगा। फेफड़ों को स्वस्थ रखने के लिए कुछ महत्वपूर्ण उपाय को अपनाकर फेफड़ों को हर तरह से प्रोटेक्शन कर सकते हैं। आइए जानें उन उपायों के बारे में-

    • हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक, तुलसी एक बहुत ही ‘गुणकारी एंटीऑक्सीडेंट’ है और ये छाती में जमे कफ को ख़त्म करने में मदद करती है। चाय में कुछ तुलसी के पत्‍तों को डालकर सेवन करना चाहिए। आप चाहें तो दिन में कम से कम एक बार काली मिर्च दालचीनी का काढ़ा बनाकर भी सकते हैं।
    • फेफड़ों को तंदरुस्त रखने के लिए अपनी डाइट सही रखें, ताकि आपकी इम्यूनिटी मजबूत रहे और वायरस आप की सेहत पर हावी ना हो सके।
    • एक्सपर्ट्स के अनुसार, मुनक्का का सेवन भी फेफड़ों के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। इसके सेवन से फेफड़ों को मजबूती मिलती है। ऐसे में रोज़ाना भीगे हुए मुनक्कों का सेवन करें। इसी के साथ आप मुलेठी भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इसमें पाए जाने वाले एंटी इन्‍फ्लैमेटरी गुण प फेफड़ों को डिटॉक्स करने का काम करते हैं।
    • लहसुन, अदरक का सेवन जरूर करें। लहसुन में ऐसे गुण होते हैं, जो आपके फेफड़ों की सफाई करते रहते हैं। आपको कफ की समस्या नहीं होने देते। अदरक शरीर को अंदर से डिटॉक्सीफाई करने का काम करता है। आधा चम्मच अदरक का रस और एक चम्मच शहद, एक गिलास गर्म पानी में मिलाकर लेने से हमारे फेफड़े डेटॉक्स होते हैं।
    • विटामिन-C वाले आहार आपके लंग्स के लिए सबसे बेस्ट हैं। खट्टे फल जैसे- संतरा, नींबू, टमाटर, कीवी, स्ट्रॉबेरी, अंगूर, अनानास, आम में ये भरपूर होते हैं। शरीर के सारे विषैले पदार्थों को बाहर करने में भी यह विटामिन फायदेमंद है।

    इन सामान्य घरेलू नुस्खों को अपनाकर आप अपने फेफड़ों को संक्रमण से बचा सकते हैं।