Why is Salt Important? Advantages and disadvantages of salt

-सीमा कुमारी 

नमक के बिना ज्यादातर टेस्टी चीज़े बेस्वाद हैं. नमक के बिना जीवन अधूरा है. जिस तरह ऑक्सीजन के बिना हम जी नहीं सकते ठीक उसी तरह हमे जीवित रहने के लिए नमक का होना बहुत जरूरी है. नमक का रसायन नाम सोडियम क्लोराइड है. ये सोडियम का एक अकार्बनिक यौगिक है जिसे नमक कहते हैं. इसका रासायनिक सूत्र NaCl होता है. एक चुटकी नमक हमारे भोजन का स्वाद ही बदल देता है या फिर यूं कहें कि बिना नमक के स्वादिष्ट भोजन बन ही नहीं सकता. कुछ लोग सोचते है की नमक से कुछ नुकसान नहीं होता है. लेकिन नमक जरुरत से ज्यादा खा लिया जाए तो हमारे शरीर के लिए उतना ही नुकसानदेह है. नमक कितने प्रकार के होते है चलिए ये जानते है:

नमक के प्रकार:

  • सादा नमक
  • सेंधा नमक
  • काला नमक
  • लो-सोडियम सॉल्ट (पौटेशियम नमक)
  • सी सॉल्ट

जानते है नमक से होने वाले फायदे और नुकसान के बारे में:

नमक से होने वाले फायदे-

  • माना जाता है की नमक में कई ऐसे गुण पाए जाते हैं, जो गले की सूजन को दूर करने के साथ ही गले में होने वाले दर्द से राहत दिलाने में फ़ायदेमंद हो सकते है. जिन लोगों को गलें में खराश या सूजन की समस्या है और खाना खाने से लेकर पानी पीने और बात करने में परेशानी है. ऐसे में नमक के पानी से गरारा करना फ़ायदेमंद साबित हो सकता है. दिन में कई बार पानी में आधा चम्मच नमक को डाल कर गरारे करें. इससे आपको गले की समस्या से छुटकारा मिलेगा. 
  • पैरों में दर्द होने पर लोग बहुत ही परेशान हो जाते है, चलना फिरना भी मुश्किल हो जाता है. ऐसे में नमक को गरम करके किसी एक कपड़ा में रख कर दर्द वाला स्थान पर सेके इससे दर्द में आराम मिलता है. या फिर आधा जग पानी में थोड़ा सा नमक डाल कर उबाल ले पानी को और उस पानी से पैर को सेके इससे भी आराम मिलता है.
  • नमक में पाए जाने वाले फ्लोराइड नामक पदार्थ में कैरोस्टेटिक गुण मौजूद होता है, जो कि दाँतों को कमजोर होकर टूटने से रोकने में मदद कर सकता है. दाँतों को मजबूत और मसूढ़ों को स्वस्थ बनाया जा सकता है.
  • काला नमक भोजन को आसानी से पचाने में सहायक होता है. काले नमक में बना भोजन करने से पेट स्वस्थ रहता है और कब्ज की समस्या से भी बचाव होता है.

नमक से होने वाले नुकसान-

  • नमक से सीधा संबंध हाई ब्लेड प्रेशर (बीपी) का है. इसलिए अपने खाने में नमक कम डालें. साथ ही अगर आपको कभी खाने में नमक कम लगे तो इसे ऊपर से ना डालें. ध्यान रखें की नमक का ज्यादा मात्रा में सेवन आपके रक्त संचरण और ब्लड प्रेशर को बिगाड़ सकता है और यह आपके मृत्यु का कारण भी बन सकता है.
  • नमक का अधिक मात्रा में सेवन करने से बोन्स (हड्डी) की सेहत के लिए ठीक नहीं है. क्योंकि यह बोन्स से कैल्शियम का क्षरण करता है. यही नहीं जैसे-जैसे व्यक्ति की उम्र बढ़ती जाती है, नमक शरीर के अन्य अंगों में भी क्षरण पैदा करता है.
  • नमक का ज्यादा सेवन दिल की बीमारियों के खतरे को बढ़ा देता है. इसलिए दिल को सेहतमंद रखने के लिए खाने में नमक की मात्रा का संतुलन बनाए रखें.
  • डायरियाँ व हैजा की स्थिति में शरीर डिहाइड्रेट हो जाता है. शरीर में ज्यादा नमक की मात्रा से डिहाइड्रेशन की समस्या हो सकती है. शरीर में डिहाइड्रेशन की समस्या नहीं हो इसके लिए आप नमक की संतुलित मात्रा लेने के साथ भरपूर पानी पीएं.