Resignation of Chris Cirillo

नयी दिल्ली. भारतीय पुरुष हाकी टीम को अगले साल होने वाले तोक्यो ओलंपिक खेलों से पहले करारा झटका लगा है क्योंकि उसके विश्लेषणात्मक कोच क्रिस सिरीलो ने स्वास्थ्य संबंधी कारणों से अपना पद छोड़ दिया है। इससे कुछ दिन पहले डेविड जॉन ने हाई परफोरमेन्स निदेशक पद से त्यागपत्र दिया था।

आस्ट्रेलिया के मशहूर ड्रैग फ्लिकर तथा ओलंपिक कांस्य और विश्व कप विजेता टीम के सदस्य रहे 34 वर्षीय सिरीलो ने सप्ताहांत में विक्टोरिया में अपने आवास से त्यागपत्र भेज दिया था।

सिरीलो कोविड-19 महामारी के बीच जून में आस्ट्रेलिया लौट गये थे। तब राष्ट्रीय टीम के खिलाड़ियों को भी एक महीने का विश्राम दिया गया था। बेंगलुरू स्थित भारतीय खेल प्राधिकरण (साइ) केंद्र में राष्ट्रीय शिविर को शुरू हुए डेढ़ महीना हो गया है लेकिन सिरीलो अब तक नहीं लौटे थे और अब पता चला है कि इस आस्ट्रेलियाई ने स्वास्थ्य कारणों से भारतीय हॉकी के साथ अपना नाता बीच में ही तोड़ दिया है। खिलाड़ी के करीबी सूत्रों के अनुसार वह त्वचा संबंधी रोग से परेशान हैं और जो उनके त्यागपत्र का कारण है। इस घटनाक्रम से जुड़े करीबी

सूत्र के अनुसार, ‘‘क्रिस ने भारतीय पुरुष हॉकी के विश्लेषणात्मक कोच पद से त्यागपत्र दे दिया है। वह जून में आस्ट्रेलिया गये थे और उन्हें पिछले महीने राष्ट्रीय शिविर से जुड़ना था लेकिन वह पहले वीसा संबंधी और बाद में स्वास्थ्य समस्याओं के कारण स्वदेश में ही रहे। ” सिरीलो पिछले ढाई साल से भारतीय टीम के साथ थे।

कोविड-19 महामारी के कारण ओलंपिक के एक साल के लिये स्थगित होने के कारण साइ ने उनका कार्यकाल एक साल के लिये बढ़ा दिया था। हॉकी इंडिया के सहयोगी स्टॉफ के जुड़े सिरीलो तीसरे आस्ट्रेलियाई हैं जिन्होंने अपना पद छोड़ा है। उनसे पहले हाई परफोरमेन्स निदेशक जॉन और पुरुष टीम के फिजियो डेविड मैकडोनाल्ड ने पिछले महीने त्यागपत्र दे दिया था। (एजेंसी)