बड़ी राहत : सरकारी कर्मचारी के परिवार में कोई कोरोना संक्रमित है तो 15 दिन की मिलेगी ‘स्‍पेशल लीव’

    नई दिल्ली. कोरोना काल में केंद्रीय कर्मचारियों (Central Govt employee) के लिए खुशखबरी है। केंद्र सरकार, सरकारी कर्मचारियों के माता-पिता या उन पर आश्रित परिवार के किसी भी सदस्य को कोरोना होने पर 15 दिन के लिए स्पेशल कैजुअल लीव (Special casual leave) देने का ऐलान किया है। बता दें कि, सरकार ने सभी स्टाफ को 15 दिन की स्पेशल लीव देने की घोषणा की है। यदि आपके पास एक भी छुट्टी नहीं बची है तब भी आपको छुट्टियां ले सकते हैं। 

    मनी कंट्रोल की जानकारी के मुताबिक, केंद्र सरकार के डिपार्टमेंट ऑफ पर्सनेल एंड ट्रेनिंग ने जानकारी दी है कि, यदि केंद्रीय कर्मचारियों के परिवार वाले स्पेशल लीव में भी ठीक नहीं होते तो कर्मचारियों को परिजन के अस्पताल से डिस्चार्ज होने तक स्पेशल छुट्टी दी जाएगी, जिससे किसी को परेशानी न हो। 

    कोरोना महामारी के चलते ऐलान 

    देशभर में फैले कोरोना महामारी के चलते सरकार ने यह फैला किया है। कर्मचारी कई बार अपनी नौकरी की वजह से घर वालों का ध्यान नहीं रख पाते हैं। 

    ऐसे में सरकार ने ऐलान किया कि आश्रित के परिजनों को कोरोना होने पर उन्हें अलग से छुट्टी दी जाएगी। बता दें कि, सरकार की पर्सनल मिनिस्ट्री से बहुत से कर्मचारियों ने अस्पताल में भर्ती होने पर देखभाल और क्वारंटीन पीरियड आदि से संबंधित छुट्टियों के बारे में पूछताछ की थी, जिसके बाद ही सरकार की ओर से यह आदेश जारी किया गया। इसमें पूरी जानकारी दी गई है।  

    7 दिन तक माना जाएगा ऑन ड्यूटी

    जानकारी हो कि कोई कर्मचारी खुद कोविड पॉजिटिव हो जाता है तो ऐसी स्थिति में वह सीधे 20 दिन की छुट्टी के लिए अप्लाई कर सकता है। इसके अलावा संक्रमण के बाद से 20 दिन तक का कमयूटेड लीव या SCL कोई अन्य लीव मिल सकता है। साथ ही वह शुरुआती 7 दिन तक ऑन ड्यूटी माना जाएगा। यानी किसी भी तरह की 7 दिन तक छुट्टी की जरूरत नहीं होगी।