narendra-modi

  • देश में किसी चुनी गई सरकार के सबसे बड़े पद पर सबसे ज्यादा दिन काबिज रहने वालों में मोदी 8वें नंबर पर.
  • 7 अक्टूबर 2001 को सम्हाला था गुजरात के मुख्मंत्री का पद.
  • लगातार 12 साल 227 दिन राज्य के CM के रूप में किया कार्य.
  • प्रधानमंत्री पद पर कुल 6 साल 131 दिन का कार्यकाल किया पूर्ण.

नयी दिल्ली. एक तरफ प्रधानमंत्री मोदी (Narendra Modi) भारतीय राजनीति में नयी नयी कामयाबी छु रहे हैं । वहीं अब उन्होंने एक नया मुकाम अपने नाम किया है। यह है दो दशक तक तक सत्ता के सर्वोच्च पद पर काबिज रहने का सबसे बड़ा मुकाम। आज यानी  7 अक्टूबर 2001 को ठीक 19 साल पहले नरेन्द्र मोदी ने गुजरात के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी। तब से लेकर आज तक वे भारत की जनता द्वारा किसी न किसी चुनी गई सरकार के मुखिया के रूप में कार्य करते रहे हैं। गुजरात के मुख्यमंत्री से  लेकर भारत के प्रधानमंत्री के रूप में उनका सफ़र सच में बहुत लम्बा है।

MODI

एक और अहम् बात यह है कि भारत कि जनता द्वारा चुनी गई सरकार (केंद्र या राज्य या फिर दोनों मिलाकर) में सर्वोच्च पद पर सबसे ज्यादा वक्त बने रहने वालों कि सूचि में नरेन्द्र मोदी 8वें नंबर पर बैठे हुए हैं। वहीं पहले नंबर पर सिक्किम के पूर्व CM पवन कुमार चामलिंग का नाम हैं। वे लगातार 24 साल 165 दिन तक राज्य के मुख्यमंत्री रहे थे। इसके साथ ही दुसरे नंबर पर पश्चिम बंगाल के पूर्व CM ज्योति बसु का नाम आता है। वे  23 साल, 137 दिन राज्य के मुख्यमंत्री पड़ पर आसीन थे।

MODI 

यानि इस प्रकार देखें तो भारत में एक प्रकार से मोदी सरकार का 20वां साल शुरू हो रहा है। इसके यह माने हुए कि भारत की राजनीती में मोदी-नीति का दूसरा दशक भी एक तरह से बीतने में है।

4 बार गुजरात के CM पद में रहे मोदी

भारत के प्रधानमंत्री बनने के पूर्व नरेन्द्र मोदी गुजरात के चार बार CM रहे हैं। इसके पहले  7 अक्टूबर 2001 को  उन्होंने केशुभाई पटेल की जगह गुजरात के CM का पद सम्हाला था। इसके बाद वे 22 दिसंबर 2002 तक राज्य के CM रहे। इसके पश्चात वे  22 मई 2014 तक यानी लगातार 12 साल 227 दिन राज्य के CM के रूप में कार्य करते रहे। बता दें कि यह किसी भी एक मुख्यमंत्री का सबसे लंबा कार्यकाल है वह भी गुजरात में। इसके पहले यह रिकॉर्ड  कांग्रेस के माधव सिंह सोलंकी के पास था जो करीब  6 साल तक राज्य के मुख्यमंत्री पद पर रहे थे 

MODI

लाल किले पर झंडा फहराकर तोडा अटलजी का रिकॉर्ड 

नरेन्द्र दामोदर दस मोदी ने सबसे पहले 26 मई 2014 को देश के 14वें प्रधानमंत्री पद की शपथ ली थी। इसके बाद वे 30 मई 2019 को क्रमशः दूसरी बार प्रधानमंत्री पद पर बैठे। इस प्रकार अभी तक वे प्रधानमंत्री पद पर कुल 6 साल 131 दिन का कार्यकाल पूर्ण कर चुके हैं। बता दें कि वे इस बड़े और महत्वपूर्ण पद पर बैठने वाले पहले गैर-कांग्रेसी नेता हैं।इसके पहले यह रिकॉर्ड पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का था। वे तीन बार भारत के प्रधानमंत्री पद पर रहे। इस प्रकार वे कुल 6 साल दो महीने और 19 दिन तक इस पद पर सुशोभित रहे। अब हाल ही में PM मोदी ने जब 15 अगस्त को लाल किले की प्राचीर से लगातार 7वीं बार झंडा फहराया  तो वे अटलजी से आगे निकल गए। इसके पहले  अटल जी ने लाल किले से कुल 6 बार झंडा फहराया था।

MODI

PM मोदी के आगे बस तीन नाम 

अब नरेन्द्र मोदी के से पहले सिर्फ तीन लोगों के पास प्रधानमंत्री के रूप में लंबा कार्यकाल का रिकॉर्ड है। ये नाम है जवाहर लाल नेहरू, इंदिरा गांधी और मनमोहन सिंह का और ये तीनों ही कांग्रेस से संबंद रखते हैं। इसमें सबसे ज्यादा  बार प्रधानमंत्री रहने का रिकॉर्ड देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू के नाम है। नेहरू 16 साल 9 महीने और 12 दिन तक भारत के प्रधानमंत्री रहे थे ।दूसरे नंबर पर उनकी सुपुत्री  इंदिरा गांधी का नाम है। बता दें कि इंदिरा दो हिस्से में कुल 15 साल 11 महीने 17 दिन तक हमारे देश की प्रधानमंत्री रहीं। वहीं तीसरे नंबर पर मनमोहन सिंह आते हैं जो लगातार 10 साल चार दिन तक देश के प्रधानमंत्री के पद पर कार्य करते रहे।

सबसे बड़े 8 काम प्रधानमंत्री मोदी के नाम

देश के लिए जो प्रधानमंत्री मोदी ने जो 8 बड़े कार्य किये है वह इस प्रकार हैं।

  1. 2014 में जनधन योजना का आरंभ किया ।
  2. 2016 में डिजिटल इंडिया मुहिम के तहत भीम ऐप लॉन्च किया जो कि  डिजिटल मुहीम के लिए बड़ी बात थी ।
  3. 2016 मे देश भर में नोटबंदी लागू की।
  4. 2017 में GST को करवाया लागू ।
  5. 2018 में आयुष्मान भारत योजना का आरम्भ किया ।
  6. 2019 में ऐतिहासिक तीन तलाक कानून लेकर आये ।
  7. 2019 में कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटवाया जो कि भारत और भारतीय राजनीति में बड़ा अवसर थी ।
  8. 2020 में राम मंदिर की नींव रखी और मंदिर बनाने का रास्ता साफ़ किया।