leopard

इडुकी. एक हैरान करने वाली खबर के अनुसार केरल (Kerala) में के इडुकी (Idukki) में कुछ लोगों ने एक खतरनाक तेंदुए (Leopard) को मारकर उसका मांस पकाकर खा गए। दरअसल इन लोगो ने अपने घर के पास करीब 100 मीटर के क्षेत्र में एक जाल बिछाया था। इसमें करीब 50 किलोग्राम का एक खतनाक तेंदुआ (Leopard) जंगल से निकलकर आ फंसा था। इसके बाद ये लोग बजाय इस तेंदुए को जंगले में छोड़ने के इसके बाद ये लोग  उसको काटकर उसका मांस भी पकाकर खा गए। अब पुलिस ने इन पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

अब इस घटना से हक्केबक्के वन अधिकारियों ने बताया कि, यह इस तरह की पहली अनोखी घटना है, जहां तेंदुए को ही मारकर खा लिया गया है। वन अधिकारियों को पहले यह लगा कि, जंगली सूअर के लिए गए जाल में दुर्घटनावश तेंदुआ फंस गया। लेकिन बाद में गिरफ्तार किए गए लोगों ने बताया कि, उन्होंने तेंदुए को फंसाने के लिए ही बड़ा जाल लगाया था। क्योंकि ये तेंदुआ उनके पालतू जानवरों और मंवेशियों का शिकार कर रहा था। जिसके चलते इन लोगों ने इसी को अपना शिकार और भोजन बना लिया।

इस पर मनकुलम रेंज ऑफिसर उधय सूरियां ने बताया कि पकड़े गए पांचों आरोपियों की पहचान विनोद, कुरीकोस, बीनू, कुंजप्पन और विन्सेन्ट के रूप में हुई है। ये सभीमनकुलम, मुनिपारा के रहने वाले हैं। विनोद के खेत में तेंदुआ जाल में फंस गया था। उसके बाद विनोद ने अपने इन सभी साथियों को बुलाया और उसे मारकर पकाया और खाया।

इस घटना के बाद विनोद के घर से 10 किलो तेंदुए का मांस भी बरमद हुआ है। इन सभी आरोपियों की यह भी योजना थी कि ये तेंदुए की खाल, नाखून और दांत तक सब बेच देंगे। गौरतलब है कि तेंदुआ सं‍रक्षित वन्‍य जीव है। इसके शिकार करने पर 7 साल तक की जेल का प्रावधान है। इस घटना के चलते अब इन लोगों के गांव और आसपास के क्षेत्र में अफरातफरी का माहौल बन गया है। यह बात भी पता चली है कि जंगल से कई बार तेंदुए शिकार की तलाश में भटकते हुए गांव तक आ जाते हैं और गांववालों के मवेशियों को अपनी खुराक बना लेते हैं।