सरकारी कर्मचारियों को होली से पहले मिली बड़ी खुशखबरी,  जानिए ये एलान

    7th Pay Commission, Government Employees And Pensioners: कोरोना संकट (Coronavirus)के चलते केंद्रीय कर्मचारियों  (Central Government Employee) और पेंशनर्स की पुरानी दर महंगाई भत्ता (डीए) (Dearness Allowance) (DA)में होली से पहले बड़ी सौगात मिली है। केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) ने हाल में संसद में जानकारी दी है कि, सरकार ने महंगाई भत्ते में इजाफा कर बकाया 3 किस्तों का भुगतान जल्द करने का फैसला लिया है।  

    ठाकुर के जानकारी अनुसार, 1 जनवरी 2020, 1 जुलाई 2020 और 1 जनवरी 2021 की किस्तों का भुगतान जल्द होगा। खुशी की बात यह है कि, जुलाई 2021 से लागू होने वाली दर से ही भुगतान किया जाएगा। वित्त राज्यमंत्री के मुताबिक जब भी 1 जुलाई 2021 के लिए डीए की किस्त देने का फैसला लिया जाएगा तो इन किस्त का भी भुगतान शुरू कर दिया जाएगा। गौरतलब हो कि, कोरोना संकट के चलते महंगाई भत्ते की किस्त रोकी गई हैं।

    फैमिली पेंशन में ढाई गुना बढ़ोत्तरी

    सरकारी कर्मचारी (Government Employee) की नौकरी के दौरान मौत होने पर परिवार को मिलने वाली पेंशन में ढाई गुना का इजाफा किया गया है। कर्मचारी की मौत होने पर परिवार को पेंशन के रूप में अब 1.25 लाख रुपए मिलेंगे। बता दें कि, अब तक यह सीमा अधिकतम 45 हजार रुपए थी, जिसे अब बढ़ा दिया गया है। अब सातवें वेतन आयोग के आधार पर अब पेंशन दिया जाएगा। इससे पहले छठें वेतन आयोग में 45 हजार रुपए अधिकतम पेंशन की व्यवस्था थी। 

    पेंशन और पेंशनभागी कल्याण विभाग ने मृत सरकारी सेवक/पेंशनभागी के उन बच्चे/भाई-बहन की पेंशन को लेकर निर्देश जारी किया है। फैमिली पेंशन योजना 1971 में यह प्रावधान है कि कर्मचारी की सर्विस के दौरान मृत्यु होने पर पारिवारिक पेंशन मुख्य रूप से कर्मचारी की विधवा या विधुर को ही दी जाती है।

    मध्य प्रदेश सरकार का  बड़ा एलान 

    मध्य प्रदेश सरकार ने होली से पहले केंद्रीय कर्मियों के अलावा साढ़े सात लाख सरकारी कर्मचारियों को बड़ी सौगात दी है। राज्य सरकार ने 7वें वेतनमान की भरपाई करते हुए एरियर की तीसरी किस्त की 75 फीसदी राशि होली से पहले जारी करने का फैसला लिया है। सरकार कर्मचारियों को 7वें वेतनमान का एरियर जारी कर रही है। इससे पहले एरियर के कुल भुगतान की दो किस्त जारी की जा चुकी है, वहीं तीसरी किस्त की 25 फीसदी रकम ही जारी की गई थी।