मध्यप्रदेश के बाद इस राज्य के कांग्रेस विधायकों में पड़ी फुट

अहमदाबाद: मध्यप्रदेश में कांग्रेस सरकार पर आए संकट थमने के पहले ही एक और राज्य में कांग्रेस विधायकों में फुट पड़ गई हैं. दरअसल, ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ समर्थक विधायकों के इस्तीफ़ा देने के बाद

अहमदाबाद: मध्यप्रदेश में कांग्रेस सरकार पर आए संकट थमने के पहले ही एक और राज्य में कांग्रेस के ऊपर संकट के बादल मंडराने लगा हैं. दरअसल, ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ समर्थक विधायकों के इस्तीफ़ा देने के बाद गुजरात में कांग्रेस विधायकों में फुट पड़ गई हैं. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कांग्रेस के कुल 13 विधायक कांग्रेस से इस्तीफ़ा देकर भाजपा में जा सकते हैं. 

बतादें कि मध्यप्रदेश में कांग्रेस सरकार में पिछले एक हफ्ते से उठापठक शुरू थी. वहीँ आज कांग्रेस के युवा और बड़े नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस की प्राथमिकता सदस्यता से इस्तीफ़ा देदिया. इसी के साथ पिछले दो दिन से बंगलुरु में मौजूदा सिंधिया समर्थक विधायकों और मंत्रियों ने इस्तीफ़ा देदिया हैं. जिसके कारण राज्य में मौजूद कमलनाथ सरकार अल्पमत में आगई हैं. 

यह भी पढ़े: मध्यप्रदेश LIVE: सिंधिया का कांग्रेस से इस्तीफ़ा, प्रधानमंत्री मोदी और जे पी नड्डा पहुचे भाजपा मुख्यालय

गुजरात के 13 विधायक भाजपा के संपर्क में 
मध्यप्रदेश कांग्रेस आए संकट के बाद अन्य राज्यों के कांग्रेस विधायकों में फुट की ख़बर आने लगी. गुजरात में कांग्रेस विधायकों के अंदर नाराजगी के सुर सुनाई देने लगे हैं. मिली जानकरी के अनुसार कांग्रेस के कुल 13 विधायक जल्द ही पार्टी को अलविदा कह सकते हैं और भाजपा में शामिल होसकते हैं. सूत्रों के अनुसार 26 मार्च तक सभी विधायक इस्तीफ़ा देकर भाजपा में शामिल होसकते हैं. 

कांग्रेस ने किया इनकार
वहीँ इस मामले पर गुजरात विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष परेश धनानी ने कहा," राज्य के कांग्रेस विधायकों में किसी तरह कोई मतभेद नहीं हैं. कोई भी विधायक भाजपा में शामिल नहीं होने वाला हैं."

गहलोत को किया दिल्ली तलब 
मध्यप्रदेश की सरकार में सिंधिया के इस्तीफे के बाद आए संकट के बाद कांग्रेस आलाकम राजस्थान सरकार को बचाने में लग गई हैं. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी ने राजस्थान के मुख्यमंत्री आशोक गहलोत को दिल्ली बुलाया हैं. बतादें कि मध्यप्रदेश की तरह राजस्थान कांग्रेस में भारी नारजगी हैं. मुख्यमंत्री आशोक गहलोत और उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट के बीच सरकार निर्माण से लेकर मनमुटाव शुरू हैं. सचिन पायलट ने कई बार खुले मंच पर अपनी नाराजगी जाता चुके हैं. इसी को देखते हुए कांग्रेस सतर्क होगई हैं और नेताओ के बीच नाराजगी दूर करने की कोशिश शुरू कर दिया हैं.