DMA asks Shah to intervene on the issue of non-payment of salary of resident doctors

    नयी दिल्ली. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने सोमवार को कोविड-19 टीके (COVID-19 Vaccine) की पहली खुराक ली। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। गृह मंत्रालय (Ministry of Home Affairs) के एक अधिकारी ने बताया कि मेदांता अस्पताल के चिकित्सकों ने शाह को टीका लगाया।

    गौरतलब है कि शाह (56) ने पिछले साल दो अगस्त को ट्विटर पर कहा था कि उनकी कोविड-19 की जांच रिपोर्ट पॉजीटिव आई है। उनका मेदांता अस्पताल में इलाज चला था और जांच रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद उन्हें अस्पताल से छुट्टी दी गई थी। कोविड के बाद के उपचार के लिए उन्हें अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भी भर्ती किया गया था।

    इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने दिल्ली (Delhi) के AIIMS हॉस्पिटल में टिका लगवाया। टीका लगवाने के साथ ही प्रधानमंत्री ने लोगों को टीका की प्रभाविता पर विश्वास जताने का संदेश दिया है। प्रधानमंत्री स्वदेश निर्मित भारत बायोटेक (BioTech) के कोवैक्सीन (Covaxin) की पहली खुराक ली। उन्होंने इस दौरान कहा, “टीका लगवाने के पात्र सभी लोगों से मैं अपील करता हूं कि हम सब मिलकर भारत (India) को कोविड-19 से मुक्त बनाएं।”

    वहीं बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने पटना के आईजीआईएमएस में वैक्सीन की पहली डोज ली। इसके अलावा उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू और ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक, राष्ट्रवादी कांग्रेस सुप्रीमो शरद पवार सहित कई नेताओं ने वैक्सीन की पहली डोज़ ली।

    गौरतलब है कि देशभर में कोरोना वैक्सीनेशन का दूसरा फेज सोमवार यानी 1 मार्च (1 March) से शुरू हो गया है। इस फेज में 60 साल से अधिक और 45 साल से ज्यादा उम्र के गंभीर बीमारियों से ग्रस्त लोगों को शामिल किया जा रहा है। जिनकी उम्र 1 जनवरी 2022 को 60 साल होने वाली होगी, वे भी इस बार टीका लगवा सकेंगे।