शिवसेना के बाद अब NCP ने कांग्रेस सेवादल को घेरा

नई दिल्ली: शिवसेना के बाद अब NCP ने भी कांग्रेस सेवादल की ओर से बांटी गई किताब पर आपत्ति जताई हैं। कांग्रेस सेवादल ने जिस किताब को बाटा था उसमे वीडी सावरकर और नाथूराम गोडसे के बीच समलैंगिक संबंधो

नई दिल्ली: शिवसेना के बाद अब NCP ने भी कांग्रेस सेवादल की ओर से बांटी गई किताब पर आपत्ति जताई हैं। कांग्रेस सेवादल ने जिस किताब को बाटा था उसमे वीडी सावरकर और नाथूराम गोडसे के बीच समलैंगिक संबंधो वाली बात कही गई थी। कांग्रेस सेवादल की पुस्तिका में सावरकर और गोडसे के बीच शारीरिक संबंध पर लिखी बात को लेकर अब NCP नेता नवाब मलिक ने बयान दिया है कि "आपत्तिजनक लेख लिखना गलत है, वैचारिक मतभेद ठीक है लेकिन व्यक्तिगत टिप्पणी नहीं की जानी चाहिए, खासकर जब व्यक्ति (सावरकर) जीवित नहीं हैं।"

इससे पहले शिवसेना नेता संजय राउत ने भी इस विषय में बयान देते हुए कहा था कि "वीर सावरकर महान व्यक्ति थे, और हमेशा महान रहेंगे…एक वर्ग उनके खिलाफ बातें करता रहता है, चाहे वह कोई भी हो, लेकिन इससे उनके दिमाग में मौजूद गंदगी के बारे में पता चलता है।" इन बातों को लेकर महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने शिवसेना को घेरे में लिया था।  उन्होंने कहा था कि  ‘आदरणीय हिंदू हृदय सम्राट शिवसेना प्रमुख बालासाहेब ठाकरे आज अगर हमारे बीच होते तो वह अपने चिरपरिचित अंदाज में इस पर (किताब पर) सबसे पहले प्रतिक्रिया देते।’