सरकार और किसान संगठनों की बैठक टली, अब 20 जनवरी को होगी वार्ता

नई दिल्ली: कृषि कानूनों (Agriculture Bill) को लेकर किसान संगठनों (Farmer Organizations) और केंद्र सरकार (Central Government) के बीच होनी वाली बैठक टल गई है। अब यह बैठक 19 की जगह 20 जनवरी को दोपहर दो बजे विज्ञान भवन (Vigyan Bhavan) में होगी। इस बात की जानकारी कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय (Ministry of Agriculture and Farmers Welfare) ने सोमवार को दी। 

ज्ञात हो कि, कृषि कानूनों को लेकर किसान संगठन करीब दो महीने से आंदोलन कर रहे हैं। किसान केंद्र सरकार से लगातार कृषि कानूनों की वापसी मांग कर रहें हैं। इसी क्रम में दोनों के बीच 9वें दौर की बातचीत हो चुकी है, लेकिन फिर भी कोई निर्णय नहीं निकला है। किसान अपनी मांग पर अड़े हुए हैं। सरकार पर दवाब बनाने के लिए 26 जनवरी को किसान संगठन ट्रैक्टर रैली करने वाले हैं। 

विभिन्न विचार वालों के वजह से समाधान नहीं 

केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री पुरषोत्तम रूपाला ने कहा, ‘‘जब किसान हमसे सीधी बात करते हैं तो अलग बात होती है लेकिन जब इसमें नेता शामिल हो जाते हैं, अड़चनें सामने आती हैं। अगर किसानों से सीधी वार्ता होती तो जल्दी समाधान हो सकता था।” उन्होंने कहा कि चूंकि विभिन्न विचारधारा के लोग इस आंदोलन में प्रवेश कर गए हैं, इसलिए वे अपने तरीके से समाधान चाहते हैं। उन्होंने कहा, ‘‘दोनों पक्ष समाधान चाहते हैं लेकिन दोनों के अलग-अलग विचार हैं। इसलिए विलंब हो रहा है। कोई न कोई समाधान जरूर निकलेगा।”

26 जनवरी को ना निकाले ट्रैक्टर रैली 

ट्रैक्टर रैली निकालने के ऐलान पर केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने किसानों से रैली नहीं निकलाने का आग्रह किया है। उन्होंने कहा, “मैं किसानों से अपील करना चाहता हूं कि 26 जनवरी हमारा गणतंत्र दिवस है और काफी बलिदानियों के बाद देश ने स्वतंत्रता हासिल की है और गणतंत्र दिवस की गरिमा प्रभावित नहीं हो, यह किसानों की भी जिम्मेदारी है। मुझे उम्मीद है कि वे अपने निर्णय पर पुनर्विचार करेंगे।”

कृषि मंत्री ने कहा, “अभी तक हमारे बीच नौ दौर की वार्ता हो चुकी है। मैंने हमेशा कहा है कि किसान संगठनों को कानून के प्रावधानों पर चर्चा करनी चाहिए। सरकार इस पर चर्चा कर रही है और अगर वे कानून के प्रावधानों में कोई समस्या बताते हैं तो सरकार खुले दिल से चर्चा करना चाहती है।” मंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार पूरी तरह किसानों के प्रति समर्पित है।

कोई हल नहीं निकलेगा 

भारतीय कृषि कानून के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा, “आयोजित होने वाली बैठक में हम सरकार से बात करेंगे लेकिन उम्मीद नहीं है कि कुछ हल निकलेगा। 26 जनवरी को हम दिल्ली की आउटर रिंग रोड पर ट्रैक्टर रैली निकालेंगे, सरकार की जहां परेड होती है हम वहां नहीं जाएंगे।”